close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

परीक्षा पर चर्चा : पीएम मोदी करेंगे टाउन हॉल, 14 करोड़ छात्र व शिक्षक लेंगे हिस्सा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले साल की तरह इस साल भी परीक्षाओं से पहले छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ टाउन हॉल करेंगे. इस बार दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में टाउन हॉल (townhall) का आयोजन 29 जनवरी को किया जाएगा और इसका विषय 'परीक्षा पर चर्चा' है.

परीक्षा पर चर्चा : पीएम मोदी करेंगे टाउन हॉल, 14 करोड़ छात्र व शिक्षक लेंगे हिस्सा

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले साल की तरह इस साल भी परीक्षाओं से पहले छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ टाउन हॉल करेंगे. इस बार दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में टाउन हॉल (townhall) का आयोजन 29 जनवरी को किया जाएगा और इसका विषय 'परीक्षा पर चर्चा' है. छात्रों को परीक्षा के दौरान होने वाले तनाव से छुटकारा दिलाने और तनावमुक्त होकर परीक्षा की तैयारी करने के टिप्स पीएम मोदी छात्रों को देंगे. इस दौरान शिक्षकों और अभिभावकों की छात्रों के प्रति क्या भूमिका होनी चाहिए, यह भी पीएम मोदी अपने अंदाज में शिक्षकों और अभिभावकों को बताएंगे.

14 करोड़ छात्र और शिक्षक देखेंगे कार्यक्रम
शिक्षा के क्षेत्र में अपने आप में अनोखे इस कार्यक्रम को भारत सहित दुनिया के एक दर्जन से ज्यादा देशों में लगभग 14 करोड़ छात्र, शिक्षक और अभिभावक इस इस कार्यक्रम को देखेंगे. पिछले साल फरवरी के महीने में टाउन हॉल का आयोजन किया गया था और इसे 7 करोड़ से ज्यादा लोगों ने देखा था. तालकटोरा स्टेडियम में होने वाले टाउन हॉल में इस बार दो हजार से ज्यादा चुनिंदा छात्र, शिक्षक और अभिभावक हिस्सा लेंगे. इनका चयन एक प्रतियोगिता के आधार पर किया गया है.

29 जनवरी को दो घंटे तक होगी चर्चा
सरकार की एजेंसी My gov ने छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों के लिए अलग-अलग सवाल पूछे थे. इस प्रतियोगिता में एक लाख से ज्यादा छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों ने हिस्सा लिया था, जिसमें से अंतिम रूप से दो हजार का चयन किया गया है. 29 जनवरी को परीक्षा पर चर्चा के लिए सुबह 11 बजे से दोपहर 1 बजे तक का समय निर्धारित किया गया है. इस विषय पर और ज्यादा जानकारी के लिये जी मीडिया संवाददाता ने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से खास बातचीत की. पेश हैं उसके अंश...

सवाल : सर, इस साल के परीक्षा पर चर्चा-प्रधानमंत्री के साथ की क्या खासियत है ?
जवाब : शायद दुनिया के ऐसे पहले पीएम नरेंद्र मोदी हैं, जो परीक्षा पर चर्चा जैसे गैर राजनीतिक विषय पर भी चर्चा करते हैं. वे छात्र, शिक्षक और अभिभावक, तीनों से संबंधित विषयों पर बात करेंगे. इस बार भारत के अलावा नाइजीरिया, ईरान, दोहा, रूस, कुवैत, मलेशिया जैसे देशों में भी इस संवाद को देखा जाएगा और संवाद होगा. पिछली साल 7 करोड़ दर्शक थे, इस बार 14 करोड़ दर्शकों के होने की उम्मीद की जा रही है.

सवाल : पीएम ने छात्रों का तनाव दूर करने के लिये एग्जाम वारियर किताब भी लिखी है. इस बार वे किस तरह का संवाद करेंगे ?
जवाब :
पिछली बार प्रधानमंत्री जी ने 'मेरे दोस्तों' कहकर शुरुआत की थी. पीए छात्रों को दोस्त कहकर पुकारते भी है और उनके साथ वैसा ही व्यवहार भी करते हैं. उनमें एक अध्यापक छुपा हुआ है. केवल 10वीं या 12वीं की परीक्षा नहीं होती बल्कि परीक्षाएं तो आती रहती हैं. हमारी भी तो परीक्षा ( लोकसभा चुनाव) मई में होनेवाली है. छात्र परीक्षा की तैयारी करें, लेकिन तनावमुक्त होकर. अभिभावक और शिक्षक को भी ये बताने की जरूरत है. क्योंकि तनाव बढ़ने में इनकी भी भूमिका होती है.

सवाल : सियासी मौसम है. आपकी पार्टी और सरकार युवाओं पर फोकस कर रही है. क्या ये कार्यक्रम भी इसी कड़ी में है?
जवाब : कार्यक्रम में शरीक होने वाले वोटर नहीं है. वैसे भी युवा देश के भविष्य हैं. युवाओं से सीधा संवाद प्रधानमंत्री जी पहले भी करते रहे हैं.

सवाल : टाउन हॉल कार्यक्रम क्या है और इसकी संरचना कैसी है?
जवाब : My gov ने एक प्रतियोगिता का आयोजन किया था. जिसमें एक लाख लोगों ने हिस्सा लिया था. उसमें से 2000 छात्र, अभिभावक और शिक्षक सलेक्ट हुए. इसका सीधा प्रसारण स्कूल और कॉलेज में किया जाएगा.