इस राज्‍य का ऐलान, छात्रों की फीस में होगी 40% कटौती

राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने निजी स्कूलों के छात्रों के लिए राहत भरा फैसला सुनाया है. राजस्थान के स्कूलों में कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए ट्यूशन फीस (Tuition Fees) में 30 प्रतिशत की कटौती का फैसला लिया है.

इस राज्‍य का ऐलान, छात्रों की फीस में होगी 40% कटौती
छात्रों की फीस में 40 फीसदी कटौती

नई दिल्ली: राजस्थान के अभिभावकों के लिए बड़ी राहत की खबर है. राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने निजी स्कूलों के कक्षा 9वीं से 12वीं के लिए ट्यूशन फीस में 30 प्रतिशत की कटौती का फैसला लिया है. इसमें सीबीएसई (CBSE) से संबद्ध स्कूल शामिल हैं. साथ ही राज्य बोर्ड से संबद्ध स्कूलों में भी 9वीं से 12वीं की कक्षाओं की फीस 40 प्रतिशत और कोर्स भी कम करने का निर्देश दिया है.

स्कूल का सिलेबस भी हुआ कम
राज्य सरकार का कहना है कि सीबीएसई (CBSE) ने क्लास 9वीं से 12वीं कक्षाओं के सिलेबस (Syllabus) को 30 प्रतिशत कम कर दिया है. इसलिए ट्यूशन फीस (Tuition Fees) में भी 30 फीसदी की कमी की जानी चाहिए. वहीं, राजस्थान बोर्ड ने सिलेबस में 40 फीसदी की कमी की है, इसलिए उन्हें आदेश में कहा गया है कि फीस में 40 फीसदी की कमी करनी चाहिए.

यह भी पढ़ें- जरूरी खबर: दिल्ली सरकार का फैसला, अगले आदेश तक बंद रहेंगे दिल्ली के सभी स्कूल

बुधवार को शिक्षा विभाग ने यह आदेश जारी किया. वहीं स्कूलों को फिर से खोलने को लेकर राजस्थान शिक्षा विभाग ने सरकार को 2 नवंबर से खोलने का सुझाव दिया है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री कार्यालय को एसओपी दिशा निर्देशों के साथ एक रिपोर्ट भी सौंपी है.

'नो स्कूल, नो फी' की मांग
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कक्षा 1 से 8 तक के छात्रों के लिए कोई निर्णय नहीं लिया गया है. पैरेंट्स भी लंबे समय से 'नो स्कूल, नो फी' की मांग करते हुए एक अभियान चला रहे हैं. इसकी वजह से राज्य सरकार ने इस कमेटी का गठन किया था. इसके बाद यह फैसला लिया गया है. 2020-21 के लिए किसी भी तरह की यूनिफॉर्म में बदलाव नहीं होगा. कमेटी ने ऑनलाइन पढ़ाई के लिए भी फीस तय की है. स्कूल ऑफलाइन पढ़ाई के साथ-साथ ऑनलाइन पढ़ाई भी करवाते रहेंगे. ऑनलाइन पढ़ाई करने वाले छात्रों को 60 फीसदी तक फीस देनी पड़ेगी.

शिक्षा से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.