close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'एजुकैफे' में अब बिना तनाव के पढ़ सकेंगे छात्र, पहली बार देश में हो रहा इस तरह का प्रयोग

कोटा में हर साल आईआईटी-जेईई और नीट प्रशिक्षण के लिए एक लाख पचास हजार से अधिक छात्र आते हैं.

'एजुकैफे' में अब बिना तनाव के पढ़ सकेंगे छात्र, पहली बार देश में हो रहा इस तरह का प्रयोग
फाइल फोटो

कोटा: शिक्षा प्रौद्योगिकी क्षेत्र की एक प्रमुख कंपनी एक्स्ट्रामार्क्‍स ने कोटा शहर में विद्यार्थियों के लिए तनावमुक्त होकर पढ़ाई करने के लिए एक लांज (आराम फरमाने की जगह) बनाया है, जिसे एक्स्ट्रामार्क्‍स एजुकैफे नाम दिया गया है. पढ़ाई करने के साथ ही शरीर को आराम देने व मन को हल्का करने के लिए देश में अपनी तरह का यह पहला लांज बताया जा रहा है. कोटा शहर इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों में दाखिले की तैयारी कराने वाले बेहतर कोचिंग संस्थानों के लिए जाना जाता है. छात्रों को पढ़ने के लिए एक अलग माहौल देने के लिए एजुकैफे एक्स्ट्रामार्क्‍स का अपना तरीका है, जिसमें अत्याधुनिक संसाधन मुहैया कराए गए हैं.

यह कैफे टैब और कंप्यूटरों से सुसज्जित हैं, जहां छात्र आईआईटी-जेईई, एनईईटी के लिए प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं. देशभर में आईआईटी के सफल उम्मीदवारों के लगभग 10 प्रतिशत अकेले कोटा से ही निकलते हैं. कठिन परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को कई बार पारंपरिक तरीके से पढ़ाई करते हुए तनाव का भी सामना करना पड़ता है.

कैफे की लांचिंग के बाद एक्स्ट्रामार्क्‍स के संस्थापक और सीएमडी अतुल कुलश्रेष्ठ ने कहा, "छात्रों को तनाव कम करने की जरूरत है. उन्हें एक ऐसी जगह मुहैया होनी चाहिए, जहां वे न केवल तनावमुक्त माहौल में गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई करें, बल्कि साथ ही साथ आराम भी कर सकें."

एक्स्ट्रामार्क्‍स एजुकैफे प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों को एक ऐसा माहौल प्रदान करता है जो उन्हें बिना किसी तनाव के आधुनिक संसाधनों व अन्य शिक्षण सामग्री की मदद से पढ़ाई करने व आराम फरमाने का स्थान भी मुहैया कराता है. कुलश्रेष्ठ का कहना है कि एजुकैफे कोटा के छात्रों को जल्द आकर्षित करने में कामयाब रहेगा. बता दें कि कोटा में हर साल आईआईटी-जेईई और नीट प्रशिक्षण के लिए एक लाख पचास हजार से अधिक छात्र आते हैं.