UP: 1.70 लाख स्कूली बच्चे लेंगे 'कौन बनेगा नन्हे कलाम' प्रतियोगिता में हिस्सा

बांदा जिले के अलावा इस प्रतियोगिता में कानपुर (Kanpur) नगर और देहात, इटावा, औरैया, बाराबंकी और लखनऊ (Lucknow) समेत 12 जिले शामिल किए गए हैं

UP: 1.70 लाख स्कूली बच्चे लेंगे 'कौन बनेगा नन्हे कलाम' प्रतियोगिता में हिस्सा
(फाइल फोटो)

बांदा: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सरकारी कार्यक्रम 'कौन बनेगा नन्हे कलाम' में बांदा जिले के पहली कक्षा से लेकर दसवीं कक्षा तक के एक लाख सत्तर हजार स्कूली बच्चों को भाग लेने का मौका मिलेगा. यह प्रतियोगी परीक्षा चार चरणों में होगी. बांदा के जिलाधिकारी हीरालाल ने गुरुवार को शिक्षकों के लिए अपने सभागार में आयोजित एक कार्यशाला में बताया कि 'कौन बनेगा नन्हे कलाम' प्रतियोगी परीक्षा में प्रदेशभर के 12 जिलों के बच्चों को शामिल किया गया है, जिसमें अकेले बांदा जिले से एक लाख, 70 हजार बच्चे इस परीक्षा में शामिल होंगे.

उन्होंने बताया कि यह परीक्षा चार चरणों मे आयोजित की जाएगी, जिसके तहत जिले के सभी सरकारी, गैरसरकारी स्कूलों और मदरसों में पढ़ने वाले पहली कक्षा से दसवीं तक के एक लाख, 70 हजार बच्चे इसमें पंजीकृत किए जाएंगे. सभागार में आयोजित इस कार्यशाला में जिलाधिकारी के अलावा जालौन जिले के डीआईओएस भागवत पटेल भी मौजूद थे. उन्होंने बताया कि इस योजना की शुरुआत जालौन जिले से 2017 में की गई थी, जिसे धीरे-धीरे अब पूरे प्रदेश में लागू किया जा रहा है.

पटेल ने बताया कि बांदा जिले के अलावा इस प्रतियोगिता में कानपुर (Kanpur) नगर और देहात, इटावा, औरैया, बाराबंकी और लखनऊ (Lucknow) समेत 12 जिले शामिल किए गए हैं और अगले चरण में इनकी संख्या बढ़ाकर 15 कर दी जाएगी.

ये भी देखें: