close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

उद्धव ठाकरे का वादा, 10 रुपये में देंगे खाने की थाली, किसानों का पूरा कर्जा माफ कर देंगे

 Maharashtra Assembly Elections 2019 : उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारी सरकार आने पर दस रुपये में खाने की थाली मुहैया कराई जाएगी. हमारी सरकार किसानों का पूरी तरह कर्ज माफ करेगी.

उद्धव ठाकरे का वादा, 10 रुपये में देंगे खाने की थाली, किसानों का पूरा कर्जा माफ कर देंगे
फाइल फोटो

मुंबई : शिवसेना (Shiv Sena) अध्यक्ष उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने प्रदेश की जनता से वादा किया है कि वह मुंबई (Mumbai) समेत पूरे महाराष्ट्र (Maharashtra) में महज दस रुपए कीमत में बेहतरीन पेटभर खाने की थाली मुहैया कराएंगे. उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को मुंबई में शिवसेना की रैली में जनता से वादों की झड़ी लगा डाली.

शिवसेना सुप्रीमो ने सरकारी तिजोरी से आम जनता को सस्ता खाना और सस्ती बिजली का वादा करते हुए लगे हाथ महाराष्ट्र के कर्ज तले दबे लाखों किसानों का पूरा का पूरा बैंक कर्ज पूरी तौर से माफ कर देने का भी वादा किया. उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारी सरकार आने पर दस रुपये में खाने की थाली मुहैया कराई जाएगी. हमारी सरकार किसानों का पूरी तरह कर्ज माफ करेगी.

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने शिवसेना की दशहरा रैली को संबोधित करते यह वादे किए. हालांकि शिवसेना और बीजेपी महाराष्ट्र में मिलकर सरकार चला रहे हैं और मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की अगुवाई में सरकार ने अपने पूरे पांच साल भी पूरे कर लिए हैं.

शिवसेना मुसलमानों का भी स्‍वागत करती है, हम मुस्लिम आरक्षण के पक्षधर: उद्धव ठाकरे

दरअसल, मुंबई में छोटे-मोटे आम होटलों में खाने की आम थाली की कीमत कम से कम 40 रुपये से 50 रुपए प्रति थाली है, जबकि थोड़े बेहतर होटलों में 80 रुपये से 120 रुपए तक भी कीमत अदा करनी पड़ती है. लिहाजा, शिवसेना ने दशहरा रैली के मंच से सस्ती खाने की थाली और सस्ती बिजली का वादा किया है. हालांकि अभी तक शिवसेना या फिर बीजेपी का चुनावी घोषणा पत्र जारी नहीं हुआ है. 

उधर, महाराष्ट्र की प्रमुख विपक्षी पार्टियां कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन ने सोमवार को चुनावी घोषणा पत्र जारी किया और उनकी सत्ता में वापसी होने पर प्रदेश की 10वीं पास छात्राओं में दस लाख मुफ्त लैपटॉप बांटने का वादा किया. गठबंधन ने पढ़े-लिखे बेरोजगारों को 5000 रुपया महीना भत्ता देने और KG क्लास से लेकर ग्रेजुएशन तक की पढाई मुफ्त मुहैया कराने समेत दूसरे कई चुनावी वादे कर डाले.