close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

भुवनेश्वर

भुवनेश्वर: ओडिशा की भुवनेश्वर लोकसभा सीट पर मंगलवार (23 अप्रैल) को लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण के तहत वोट डाले गए. भुवनेश्वर लोकसभा सीट पर मुख्य चुनावी मुकाबला दो पूर्व अधिकारियों के बीच है. इनमें से एक को ओडिया भाषा में ‘पुआ’ यानी बेटा और दूसरे को ‘बोहू’ यानी बहू कहा जा रहा है.

इनमें ‘पुआ’ हैं बीजू जनता दल के उम्मीदवार अरूप पटनायक और ‘बोहू’ हैं भाजपा की प्रत्याशी अपराजिता सारंगी. इनमें एक साझी बात यह है कि दोनों ने बतौर सरकारी अधिकारी एक लंबा कार्यकाल बिताया है.

ओडिशा के ‘पुत्र’ पटनायक मुंबई पुलिस प्रमुख जैसे चर्चित पद पर रह चुके हैं और उनका अधिकांश जीवन महाराष्ट्र में बीता है. वहीं, ओडिशा की ‘बोहू’ सारंगी ने 19 साल तक ओडिशा में अपनी सेवाएं दी हैं. उन्होंने चुनाव लड़ने के लिए छह महीने पहले भारतीय प्रशासनिक सेवा से त्यागपत्र दे दिया था.



यहां की राजनीति की नब्ज पकड़ने वाले मानते हैं कि इन दो पूर्व अधिकारियों के बीच ही चुनावी हार-जीत का फैसला होगा. कांग्रेस ने भुवनेश्वर सीट माकपा को दी है और उसने यहां से पुराने कम्युनिस्ट जनार्दन पति पर दांव खेला है. इन तीनों के अलावा 11 और उम्मीदवार भी चुनावी सरगम में अपना सुर लगा रहे हैं.

वामपंथी राजनीति के दिग्गज शिवराज पटनायक इस सीट से 1989 और 1991 में अपनी जीत का परचम फहरा चुके हैं. यह सीट फिलहाल बीजद के प्रसन्ना पटसानी के पास है.

क्या हैं उम्मीदवारों की मजबूत पक्ष
कठोर प्रशासक की छवि वाली और बिहार में जन्मीं सारंगी की शादी आईएएस अधिकारी संतोष सारंगी से हुई. उन्होंने भुवनेश्वर की निगमायुक्त और राज्य की स्कूल एवं जन शिक्षा विभाग की सचिव के रूप में काफी लोकप्रियता हासिल की थी.

पटनायक के पक्ष में दो बातें हैं-पहली यह कि उन्होंने यहां जबर्दस्त चुनाव प्रचार चलाया है और दूसरी यह कि उन्हें मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की साफ सुथरी छवि और लोकप्रियता का भी सहारा है.

वामपंथी दल के प्रत्याशी जर्नादन पति झुग्गी झोंपड़ियों में रहने वालों में बहुत लोकप्रिय हैं और बेगुनिया व जतनी विधानसभा सीट वाले क्षेत्र में उनकी गहरी पकड़ है. उनका कहना है कि वह मोदी सरकार की ‘गरीब विरोधी’ नीतियों, नोटबंदी और जीएसटी जैसे कदमों को लोगों के सामने ला रहे हैं.

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
अपराजिता सारंगी बीजेपी

जीते

486991
अरूप मोहन पटनायक बीजेडी

हारे

463152
जनार्दन पति सीपीएम

हारे

23026
नोटा नोटा

हारे

6156
संजय कुमार साहू निर्दलीय

हारे

5873
बिस्वनाथ राउत केआरपीपी

हारे

2816
ललिता कुमार नायक बीएसपी

हारे

2780
सुशील कुमार जेना निर्दलीय

हारे

2665
जयंत कुमार दास निर्दलीय

हारे

2360
सुभ्रांशु सेखर पाढ़ी टीएमसी

हारे

2344
बिश्वनाथ रामचंद्र एफपीआई

हारे

1497
महेश चंद्र सेठी निर्दलीय

हारे

1491
प्रमिला बेहरा सीपीआई (एमएल) (आर)

हारे

1482
भक्त सेखर रे केएलएस

हारे

1382
मधु सूदन यादव निर्दलीय

हारे

1200

भुवनेश्वर खबरें

भारतीय हॉकी टीम के पास सुनहरा मौका, रच सकती है इतिहास : दिलीप टिर्की

भारतीय हॉकी टीम के पास सुनहरा मौका, रच सकती है इतिहास : दिलीप टिर्की

कभी भारतीय हॉकी की दीवार कहे जाने वाले महान डिफेंडर टिर्की ने कहा कि मौजूदा भारतीय टीम दुनिया की किसी भी टीम को हराने का माद्दा रखती है.

Dec 12, 2018, 12:37 AM IST
VIDEO: भुवनेश्‍वर के इस होमगार्ड के ट्रैफिक संभालने का अंदाज है कुछ निराला, आप भी देखिए

VIDEO: भुवनेश्‍वर के इस होमगार्ड के ट्रैफिक संभालने का अंदाज है कुछ निराला, आप भी देखिए

ट्रैफिक पुलिसकर्मी के पद पर तैनात होमगार्ड प्रताप चंद्र खंडवाल डांस करके और सीटी बजाकर ट्रैफिक को संभालते हैं.

Sep 11, 2018, 03:10 PM IST
देहरादून-भुवनेश्वर में दिखे संदिग्ध; खुफिया एजेंसियां सतर्क, तलाश जारी

देहरादून-भुवनेश्वर में दिखे संदिग्ध; खुफिया एजेंसियां सतर्क, तलाश जारी

देहरादून में मंगलवार को एक सीसीटीवी फुटेज में 8 संदिग्ध लोग देखे गए हैं। सीसीटीवी फुटेज मिलने के बाद उत्तराखंड पुलिस ने संदिग्धों की तलाश शुरू कर दी है। पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं, भुवनेश्वर में चार व्यक्तियों पर आतंकवादी होने का संदेह व्यक्त किया गया है। चारों व्यक्ति के लापता होने के मद्देनजर ओडिशा में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है।

Jan 27, 2016, 09:20 AM IST