close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

दमदम

ऩई दिल्ली : पश्चिम बंगाल की दमदम लोकसभा सीट देश की उन सीटों में शुमार है, जहां पर कोई भी पार्टी ज्यादा समय तक अपना दम नहीं दिखा पाई है. इस सीट पर बीजेपी सहित विरोधी पार्टियां यहां पर केवल पांच चुनाव ही जीत पाई हैं.

राजनीतिक गणित के हिसाब से बात की जाए तो 1977 के लोकसभा चुनावों के बाद से यहां अब तक सबसे ज्यादा 5 बार माकपा ने जीत दर्ज की है. यहां 1977 में सबसे पहली बार चुनाव हुए थे. उन चुनावों में भारतीय लोक दल के टिकट पर अशोक कृष्ण दत्त सांसद चुनकर लोकसभा पहुंचे थे. 1980 के चुनाव में माकपा के उम्मीदवार निरेन घोष चुने गए थे.

1984 के चुनावों में कांग्रेस ने जीत हासिल की थी और उसके उम्मीदवार आशुतोष लाहा संसद पहुंचे थे. इसके बाद माकपा के 1989, 1991 और 1996 के लोकसभा चुनावों में माकपा के निर्मल कांति चटर्जी चुनाव जीतते रहे. इसी तरह 1998 और 1999 के चुनावों में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के तपन सिकदर चुनाव जीते. 2004 के चुनाव में माकपा के अमिताव नंदी सांसद चुने गए. इसके बाद 2009 में तृणमूल कांग्रेस पहली बार यहां से जीत दर्ज करने में कामयाब रही.

हांलाकि कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस की टक्कर का उम्मीदवार उतारकर बीजेपी ने 2014 की कहानी को दोहराया है और मुकाबले को रोमांचक कर दिया है.

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
सौगात रॉय टीएमसी

जीते

512062
समिक भट्टाचार्य बीजेपी

हारे

459060
नेपालीदेब भट्टाचार्य सीपीएम

हारे

167590
सौरव शाहा कांग्रेस

हारे

29097
नोटा नोटा

हारे

14491
नरेश चंद्र बरूई बीएसपी

हारे

4974
शंकर दास सीपीआई (एमएल) (आर)

हारे

4379
सत्य ब्रत बंद्योपाध्याय आरजेएएसपी

हारे

2964
इंद्रनील बनर्जी शिवसेना

हारे

2895
तरुण कुमार दास एसयूसीआई

हारे

2437
सुबीर दास एनडीपीआई

हारे

2320
झूमा साहा पीडीएस

हारे

1705
अमित सेनगुप्ता आरजेसीपी

हारे

1186

दमदम खबरें

रानाघाट लोकसभा सीट: वो सीट जहां लोड़बो और जीतबो बना बीजेपी का लक्ष्य

रानाघाट लोकसभा सीट: वो सीट जहां लोड़बो और जीतबो बना बीजेपी का लक्ष्य

पश्चिम बंगाल की रानाघाट लोकसभा सीट पर 2014 में हुए चुनाव में TMC के तापस मंडल ने जीत दर्ज की थी. उन्होंने 5,90,451 वोट हासिल किए. वहीं CPM उम्मीदवार अर्चना विश्वास 3,88,684 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर रहीं.

Apr 25, 2019, 03:09 PM IST
बेरहामपुर में 2014 वाला जलवा दिखा पाएंगे अधीर चौधरी, TMC और BJP से मुकाबला

बेरहामपुर में 2014 वाला जलवा दिखा पाएंगे अधीर चौधरी, TMC और BJP से मुकाबला

पिछले चुनावों के नतीजों को भांपते हुए एक बार फिर इस सीट से कांग्रेस ने अधीर रंजन को ही मैदान में उतारा है. जबकि तृणमूल कांग्रेस (TMC)ने अपूर्बा सरकार को टिकट दिया है.

Apr 25, 2019, 03:01 PM IST
रायजंग लोकसभा सीट पर कांग्रेस-सीपीएम की जंग का फायदा उठाने की कवायद में बीजेपी

रायजंग लोकसभा सीट पर कांग्रेस-सीपीएम की जंग का फायदा उठाने की कवायद में बीजेपी

रायगंज लोकसभा सीट के इतिहास की बात करें तो यहां पर कांग्रेस ने एक लंबी पारी खेली है. 1952-1977 तक यहां कांग्रेस का वर्चस्व रहा.

Apr 25, 2019, 02:51 PM IST
क्या कहता है बलूरघाट लोकसभा सीट का राजनीतिक समीकरण, जानिए

क्या कहता है बलूरघाट लोकसभा सीट का राजनीतिक समीकरण, जानिए

अपनी अनोखी सांस्कृतिक पहचान के लिए प्रसिद्ध पश्चिम बंगाल की बलूरघाट लोकसभा सीट बेहद अहम है

Apr 25, 2019, 01:28 PM IST
अलीपुरद्वार सीट पर BJP या आरएसपी कौन देगा दशरथ तिर्की को मात?

अलीपुरद्वार सीट पर BJP या आरएसपी कौन देगा दशरथ तिर्की को मात?

1967 में अस्तित्व में आई अलीपुरद्वार सीट राजनीतिक लिहाज से हर पार्टी के लिए खास रही है. बीजेपी, तृणमूल कांग्रेस इस सीट को जीतने के लिए हर तरह से कोशिश कर चुकी है, लेकिन कामयाबी अब तक कुछ ही बार मिल पाई है. 

Apr 25, 2019, 12:21 PM IST
उत्तर बंगाल के धनी विरासत से समृद्ध कूचबिहार सीट पर कमल खिलाने की चुनौती

उत्तर बंगाल के धनी विरासत से समृद्ध कूचबिहार सीट पर कमल खिलाने की चुनौती

साल 1951 से 1962 तक यहां कांग्रेस का कब्जा था. उसके बाद 1962-63 में यह सीट AIFB के खाते में चली गई.

Apr 25, 2019, 12:04 PM IST
मथुरापुर लोकसभा सीट पर क्या 2014 की जीत को दोहरा पाएगी तृणमूल कांग्रेस?

मथुरापुर लोकसभा सीट पर क्या 2014 की जीत को दोहरा पाएगी तृणमूल कांग्रेस?

मथुरापुर लोकसभा सीट में सात विधानसभा सीटें आती हैं, जिसमें पाथरप्रतिमा, काकद्वीप, सागर, कुल्पी, रायडीह, मगराहत और मंदिर बाजार शामिल हैं.

Apr 25, 2019, 11:54 AM IST
जयनगर लोकसभा सीट पर वामपंथी दलों के बीच है मुकाबला, जातीय सीमकरण भुनाने पर जोर

जयनगर लोकसभा सीट पर वामपंथी दलों के बीच है मुकाबला, जातीय सीमकरण भुनाने पर जोर

वन संपदा से भरपूर जयनगर लोकसभा सीट हर राजनेता के लिए काफी अहम है. 1962 के बाद अस्तित्व में आई इस सीट पर शुरुआत से ही वामपंथी दलों के बीच मुकाबला रहा है. 

Apr 25, 2019, 11:38 AM IST
दमदम लोकसभा सीट पर अब तक कोई पार्टी नहीं दिखा पाई है अपना दम, हर बार बदलती है रंग

दमदम लोकसभा सीट पर अब तक कोई पार्टी नहीं दिखा पाई है अपना दम, हर बार बदलती है रंग

राजनीतिक गणित के हिसाब से बात की जाए तो 1977 के लोकसभा चुनावों के बाद से यहां अब तक सबसे ज्यादा 5 बार माकपा ने जीत दर्ज की है.

Apr 25, 2019, 11:23 AM IST