close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

कांथी

नई दिल्ली : पश्चिम बंगाल के पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथी लोकसभा सीट राजनीति के लिहाज से काफी संवेदनशील मानी जाती है. इस के अस्तित्व में आने के बाद से ही यहां माकपा का कब्जा रहा है, लेकिन 2009 के चुनावों में तृणमूल कांग्रेस अपना वर्चस्व दिखाने में कामयाब रही और तब से सत्ता में कायम है.

कुल 7,77,345 पुरुष और 7,13,064 महिला मतदाताओं वाला यह संसदीय क्षेत्र कृषि प्रधान है. धान, पान और काजू की खेती से लबरेज यहां समुद्री क्षेत्र भी आता है, इसलिए मत्स्य जीव भी भारी संख्या में यहां पाए जाते हैं और उनका व्यापार भी काफी बड़ा है. इतनी सारी खूबियां होने के कारण यहां पर चुनाव भी इसी के इर्द-गिर्द घूमती है.

पिछले चुनावों के नतीजों पर नजर
सीट पर अभी मौजूदा सांसद- शिशिर कुमार अधिकारी, तृणमूल कांग्रेस
जीत का अंतर- 2,29,490 वोट
दूसरे स्थान पर- तापस सिन्हा, CPM
2014 में कुल मतदाता- 14,90,409
पुरुष वोटरों की संख्या- 7,77,345
महिला वोटरों की संख्या- 7,13,061

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
आदिकारी सिसिर टीएमसी

जीते

711872
डॉ. देबाशीष सामंत बीजेपी

हारे

600204
परितोष पट्टनायक सीपीएम

हारे

76185
दीपक कुमार दास कांग्रेस

हारे

16851
नोटा नोटा

हारे

8687
केनाराम मिश्रा शिवसेना

हारे

4147
मानस प्रधान एसयूसीआई

हारे

3297
बर्मन खोकन बीएसपी

हारे

3004

कांथी खबरें

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने फिर खेला है प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत पर दांव

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने फिर खेला है प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत पर दांव

जंगीपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने 2014 के चुनाव में अभिजीत मुखर्जी को फिर मैदान में उतारा जिसमें उन्होंने जीत हासिल की.  अभिजीत मुखर्जी को 378,201 यानी 33.80 फीसदी वोटों के साथ जीत दर्ज की.

Apr 25, 2019, 09:51 AM IST
कृषि-व्यापार के इर्द-गिर्द घूमती है कांथी लोकसभा सीट की राजनीति, हैट्रिक लगाएगी TMC!

कृषि-व्यापार के इर्द-गिर्द घूमती है कांथी लोकसभा सीट की राजनीति, हैट्रिक लगाएगी TMC!

धान, पान और काजू की खेती से लबरेज यहां समुद्री क्षेत्र भी आता है, इसलिए मत्स्य जीव भी भारी संख्या में यहां पाए जाते हैं और उनका व्यापार भी काफी बड़ा है. इतनी सारी खूबियां होने के कारण यहां पर चुनाव भी इसी के इर्द-गिर्द घूमती है. 

Apr 25, 2019, 09:25 AM IST