close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

मोहनलालगंज

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और उन्नाव से सटी हुए मोहनलालगंज लोकसभा सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है. एक दौर में इस सीट को कांग्रेस का मजबूत गढ़ माना जाता था, लेकिन समय के साथ-साथ ये बदला और समाजवादी पार्टी ने इस सीट पर अपना प्रभुत्व बना दिया. लेकिन, साल 2014 में चली मोदी लहर ने सपा की जीत को हार में बदलकर इस सीट पर फूल खिला दिया. इस सीट के तहत ज्यादातर क्षेत्र ग्रामीण होने के बावजूद यहां का लिंगानुपात देश के कई बड़े शहरों से भी बेहतर है. यहां प्रति 1,000 पुरुषों पर 906 महिलाएं हैं. साल 2014 में इस सीट पर बीजेपी के कौशल किशोर यहां कमल खिलाने में सफल हुए थे.

मोहनलालगंज के लोकसभा संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत 5 विधानसभा क्षेत्र आते हैं, जिनके नाम हैं सिधौली, मलीहाबाद, बक्षी का तालाब, सरजोनी नगर और मोहनलालगंज है.

साल 2014 का ये था जनादेश
उत्तरप्रदेश की मोहनलालगंज लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद बीजेपी के कौशल किशोर हैं. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में कौशल किशोर ने बीएसपी के आरके चौधरी को हराया था. इस सीट पर दूसरे नंबर पर बीएसपी तीसरे पर एसपी, चौथे पर कांग्रेस और पांचवें पर आम आदमी पार्टी रही थी. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में मोहनलालगंज संसदीय सीट पर 60.75 प्रतिशत मतदान हुआ था.

मोहनलालगंज का राजनीतिक इतिहास
मोहनलालगंज सीट पर पहली बार साल 1962 में चुनाव हुआ था और कांग्रेस की गंगा देवी ने जीत के साथ इस सीट पर कब्जा किया. इसके बाद तीन बार लगातार उन्होंने इस सीट पर जीत दर्ज की. साल 1977 में हुए लोकसभा चुनाव में भारतीय लोकदल के राम लाल कुरील यहां से जीते. साल 1980 में हुए लोकसभा चुनाव में फिर कांग्रेस के कैलाश पति ने कांग्रेस को इस सीट से फिर विजय दिलाई और फिर लगातार तीन बार इसी सीट से सांसद बनें. साल 1984 में कांग्रेस नेता जगन्नाथ प्रसाद सासंद चुने गए. साल 1989 के लोकसभा चुनाव में जनता दल ने सरजू प्रसाद सरोज को मैदान में उतारकर कांग्रेस के लगातार जीत के सिलसिले को रोक दिया.
साल 1991 में बीजेपी के छोटे लाल ने यहां से चुनाव जीता. साल 1996 में फिर लोगों ने उन पर भरोसा जताया. 1998 में इस सीट पर समाजवादी पार्टी ने अपना खाता खोला. साल 1998 से 2009 तक यहां एक छत्र समाजवादी पार्टी डंका बजाती रही. कई सालों के विजयी रथ को साल 2014 में सपा के इस विजयी रथ को बीजेपी के कौशल किशोर ने रोका और संसद तक पहुंचे.

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
कौशल किशोर बीजेपी

जीते

629748
सी. एल. वर्मा बीएसपी

हारे

539519
आर. के. चौधरी कांग्रेस

हारे

60061
नोटा नोटा

हारे

10790
गणेश रावत पीएसपी (लोहिया)

हारे

7975
प्रभावती देवी निर्दलीय

हारे

4332
सुशील कुमार एडीएसपी

हारे

4281
जगदीश रावत निर्दलीय

हारे

3062
शतरोहन लाल रावत लोक दल

हारे

2633
रमेश कुमार निर्दलीय

हारे

2462
राम सागर पासी एसएसपी

हारे

1515
जगदीश प्रसाद गौतम एमएनएसपी

हारे

1443
राधा आम्बेडकर पीपीआई (डी)

हारे

1219

मोहनलालगंज खबरें

लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन के बाद राजनाथ सिंह ने भरा नामांकन, साथ दिखे ये नेता

लखनऊ में शक्ति प्रदर्शन के बाद राजनाथ सिंह ने भरा नामांकन, साथ दिखे ये नेता

रोड शो करने से पहले राजनाथ सिंह से मंदिर में पूजा-अर्चना की. पूजा अर्चना करने के बाद वे बीजेपी दफ्तर पहुंच गए हैं. उनके साथ जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के महासचिव केसी त्यागी भी हैं. 

Apr 16, 2019, 11:14 AM IST
रोड शो के बाद आज लखनऊ से नामांकन दाखिल करेंगे राजनाथ सिंह, CM योगी नहीं होंगे शामिल

रोड शो के बाद आज लखनऊ से नामांकन दाखिल करेंगे राजनाथ सिंह, CM योगी नहीं होंगे शामिल

राजनाथ सिंह के रोड शो में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल नहीं होंगे, क्योंकि चुनाव आयोग ने हेट स्पीच और आचार संहिता उल्लंघन मामले में उन पर 72 घंटे का प्रतिबंध लगाया है. 

Apr 16, 2019, 08:49 AM IST
लखनऊ मर्डर केस  : 'पीड़िता का हुआ बलात्कार, एक से अधिक लोग थे शामिल'

लखनऊ मर्डर केस : 'पीड़िता का हुआ बलात्कार, एक से अधिक लोग थे शामिल'

ज़ी मीडिया ब्यूरो लखनऊ : लखनऊ के मोहनलालगंज में एक महिला की हत्या मामले में नया खुलासा हुआ है। रविवार को आईं रिपोर्टों के मुताबिक 32 साल की महिला के साथ बलात्कार हुआ था और इस घटना में एक से ज्यादा लोगों के शामिल होने की आशंका है।  

Jul 27, 2014, 01:57 PM IST