close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

सिकन्दराबाद

सिकंदराबाद: तेलंगाना की सिकंदराबाद लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने अंजन कुमार यादव और तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) ने तालासानी साई किरन यादव को चुनाव लड़वाया है. वहीं भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने मौजूदा सांसद बंडारू दत्तात्रेय की बजाय इस बार गंगापुरम किशन रेड्डी पर विश्वास जताया है. इस सीट पर 28.85 फीसदी वोटिंग हुई है और 28 प्रत्याशी ने किस्मत आजमाई है. अब देखना यह होगा कि 23 मई को मतगणना में किस प्रत्याशी को फतह मिलेगी? इस सीट पर 11 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के पहले चरण में मतदान हो चुका है.

कांग्रेस के दबदबे वाली सिकंदराबाद सीट पर तेलंगाना सरकार के मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव के बेटे तलसानी साईकिरण यादव चुनाव लड़े हैं. वह टीआरएस से सबसे कम उम्र के उम्मीदवार हैं. 2018 के विधानसभा चुनावों में उन्होंने अपने पिता की जीत के लिए बड़े पैमाने पर प्रचार किया.

इस सीट से कांग्रेस का चेहरा पूर्व सांसद अंजन कुमार यादव हैं, जिन्होंने आखिरी बार 2009 में चुनाव जीता था. वह टीआरएस से मंत्री तलसानी श्रीनिवास यादव के बेटे और गंगापुरम किशन रेड्डी के साथ पहली बार चुनाव लड़े.

1957 में हुए देश के दूसरे लोकसभा चुनावों के बाद अस्तित्व में आई सिकंदराबाद सीट कांग्रेस का मजबूत गढ़ मानी जाती थी. यहां पर 17 आम चुनावों में 12 बार कांग्रेस का प्रतिनिधि जीत चुका है जबकि चार बार बीजेपी और एक बार निर्दलीय को सफलता हाथ लगी थी. पिछली बार मोदी लहर में बीजेपी के बंडारू दत्तात्रेय ने फतह हासिल की थी.

सिकंदराबाद संसदीय क्षेत्र में सात विधानसभा सीटें आती हैं. ये सीटें हैं- सिकंदराबाद, मुशीराबाद, अम्बरपेट, खैराताबाद, जुबली हिल्स, सनथ नगर और नामपल्ली. बीते साल 2018 में हुए विधानसभा चुनावों के बाद यहां पर सात में से छह सीटों पर टीआरएस को जीत मिली थी. वहीं असददुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने सिर्फ एक सीट पर ही जीत दर्ज कर पाई थी.

पता हो कि तेलंगाना भारत के आंध्रप्रदेश राज्य से अलग होकर भारत का 29वां राज्य बना था. दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी हैदराबाद है. राज्य में मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव की अगुवाई में टीआरएस पार्टी की सरकार है. इस राज्य में 119 विधानसभा सीटें और 17 लोकसभा सीटें हैं. वहीं प्रदेश में कुल जिलों की संख्या 31 है.

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
जी. कृष्ण रेड्डी बीजेपी

जीते

384780
तलसानी साई किरण यादव टीआरएस

हारे

322666
अंजन कुमार यादव कांग्रेस

हारे

173229
एन. शंकर गौड जेएसपी

हारे

9683
नोटा नोटा

हारे

9038
के. वेंकट नारायण निर्दलीय

हारे

1493
आंद्रापु सुदर्शन (गंगापुत्र) निर्दलीय

हारे

1400
चल्ला राम कल्याण बीएपी

हारे

1297
एम. अशोक कुमार एसएफबी

हारे

1147
अब्दुल्ला इब्राहिम निर्दलीय

हारे

1080
अखिल चिर्रावुरी निर्दलीय

हारे

803
नंदीपति विनोद कुमार निर्दलीय

हारे

718
जुनैद अनम सिद्दीकी निर्दलीय

हारे

648
मुनीर पाशा निर्दलीय

हारे

630
जे. एन. राव डीबीपी

हारे

586
श्रीरामा नाईक मुनवत निर्दलीय

हारे

565
आर. लक्ष्मण राव गंगापुत्र निर्दलीय

हारे

557
एम. डी. नजीरुद्दीन कादरी एबीएमएल (एस)

हारे

555
जी. लक्ष्मीनरसिम्हा राव टीपीपी

हारे

521
अब्दुल अजीम निर्दलीय

हारे

491
एम. जी. साईं बाबा निर्दलीय

हारे

484
एस. सत्यावती पीपीआई

हारे

433
फरहा नाज़ खान निर्दलीय

हारे

421
अंदुकुरी विजया भास्कर आईपीबीपी

हारे

420
दोरनाला जय प्रकाश एनडब्ल्यूआईपी

हारे

360
जी. मल्लेश एसयूसीआई

हारे

334
बतुला रवि निर्दलीय

हारे

333
बोधु सतीश निर्दलीय

हारे

217
रवि कुमार वोडेला निर्दलीय

हारे

217

सिकन्दराबाद खबरें

सिकंदराबाद लोकसभा सीट: कांग्रेस के किले में BJP ने लगाई थी सेंध, अब है कड़ा मुकाबला

सिकंदराबाद लोकसभा सीट: कांग्रेस के किले में BJP ने लगाई थी सेंध, अब है कड़ा मुकाबला

इस सीट पर 28.85 फीसदी वोटिंग हुई है और 28 प्रत्याशी ने किस्मत आजमाई है. अब देखना यह होगा कि 23 मई को मतगणना में किस प्रत्याशी को फतह मिलेगी?

Apr 25, 2019, 04:29 PM IST