Sushant के एक फैन ने ऐसे बना दिया उन्हें अमर, तस्वीर देख आप भी हो जाएंगे भावुक

एक मूर्तिकार ने दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की याद में एक वैक्स स्टैचू बनाई है.

Sushant के एक फैन ने ऐसे बना दिया उन्हें अमर, तस्वीर देख आप भी हो जाएंगे भावुक
फोटो साभार: इंस्टाग्राम

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के आसनसोल के रहने वाले एक मूर्तिकार ने दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की याद में एक वैक्स स्टैचू बनाई है. प्रतिमा में सुशांत काली पेंट, सफेद टी-शर्ट और डेनिम जैकेट के साथ सफेद जूते, कलाई में घड़ी पहने हुए नजर आ रहे हैं. वह अपनी प्रतिमा में मुस्कुराते हुए काफी जीवंत दिख रहे हैं. हमारी सहयोगी वेबसाइट DNA में प्रकाशित एक खबर के अनुसार मूर्तिकार सुकांतो रॉय ने कहा है कि अगर अभिनेता के परिवार वाले उनकी प्रतिमा लेने की इच्छा जाहिर करेंगे, तो वह उनके लिए एक नई बना देंगे.

सुशांत की मौत के तुरंत बाद एक ऑनलाइन आंदोलन शुरू हो गया था. उनके फैंस और फॉलोअर्स उन्हें न्याय दिलाने की मांग करने लगे थे. उनके नाम पर कई ऑनलाइन मुहिम शुरू हुईं. एक एनजीओ ने शिवसेना के नेता आदित्य ठाकरे से उन्हें मृत्युपरांत पद्म भूषण देने का निवेदन भी किया है. हाल में सुशांत सिंह राजपूत के फैंस ने लंदन स्थित मैडम तुसाद म्यूजियम में उनकी वैक्स प्रतिमा लगाने के लिए एक ऑनलाइन मुहिम शुरू की है. 

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Viral Bhayani (@viralbhayani) on

इस ऑनलाइन याचिका में दुनियाभर में फैले सुशांत के फैंस से हस्ताक्षर करने के लिए कहा गया है. अर्जी में दो लाख हस्ताक्षर प्राप्त करने का लक्ष्य बनाया गया था और अब तक 1 लाख 70 हजार से ज्यादा लोगों ने इस पर हस्ताक्षर भी कर दिया है. हालांकि, सुशांत की वैक्स प्रतिमा को लंदन के मैडम तुसाद में स्थापित करने के निर्णय से पहले ही आसनसोल के एक मूर्तिकार सुकांतो रॉय ने स्वर्गीय अभिनेता की एक वैक्स प्रतिमा बनाकर उनके प्रति सम्मान जाहिर किया है. बहरहाल, फैंस की यह ऑनलाइन याचिका सराहनीय है, जिसका शीर्षक है, मैडम तुसाद लंदन में सुशांत की प्रतिमा लगाने हेतु.

याचिका के एक हिस्से में लिखा है, सुशांत सिंह राजपूत की दुखद मौत ही उन्हें याद करने की वजह नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कई शानदार फिल्में दी हैं, जिनमें 'एमएस धोनीः दि अनटोल्ड स्टोरी', 'काय पो छे', 'राब्ता' और 'छिछोरे' शामिल हैं. साथ ही नीति आयोग ने वीमन एंटरप्रिन्योर प्लैटफॉर्म (डब्लूईपी) के प्रचार के लिए उन्हें अनुबंध किया था.  

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें