close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीफ विवाद : पाकिस्तानियों ने अदनान सामी को किया ट्रोल, जवाब में कहा- ये आजादी की बात है आप नहीं समझेंगे...

पाकिस्तान मूल के गायक अदनान सामी को एक बार फिर टि्वटर पर ट्रोल किया गया है. इस बार भारत में चल रहे बीफ बैन विवाद को लेकर पाकिस्तानियों ने सामी को ट्रोल किया. 

बीफ विवाद  : पाकिस्तानियों ने अदनान सामी को किया ट्रोल, जवाब में कहा- ये आजादी की बात है आप नहीं समझेंगे...
बीफ बैन विवाद को लेकर अदनान सामी ने कर दी पाकिस्तानियों को बोलती बंद

नई दिल्ली : पाकिस्तान मूल के गायक अदनान सामी को एक बार फिर टि्वटर पर ट्रोल किया गया है. इस बार भारत में चल रहे बीफ बैन विवाद को लेकर पाकिस्तानियों ने सामी को ट्रोल किया. 

दरअसल, अदनान सामी अब भारत के नागरिक बन चुके हैं. इसके बाद से ही पाकिस्तान में उनकी कड़ी आलोचना हो रही है. भारत के पक्ष में कोई भी ट्वीट करने पर पाकिस्तान के लोग उन्हें अपने निशाने पर ले लेते हैं और उन्हें ट्रोल करने लगते हैं, लेकिन अदनान भी हर बार अपने जवाब से उनकी बोलती बंद कर देते हैं. 

इस बार मुद्दा भारत में बीफ बैन का है. अदनान को भारत में चल रहे बीफ बैन विवाद को लेकर ट्रोल किया जा रहा था, जिसका करारा जवाब देकर ट्रोल कराने वालों की बोलती बंद कर दी. 

अदनान ने ट्वीट किया- डियर पाक ट्रोल्स, आप लगातार पूछते हैं कि मैं बीफ मिस करता हूं तो सुन लीजिए मैं बीफ मिस नहीं करता. यहां मुझे आजादी है. ये आजादी की बात है... आप नहीं समझोगे. 

इसके बाद अदनान ने एक और ट्वीट किया- भारत में बीफ की कमी उसी तरह हैं जैसे पाकिस्तान में शराब. चियर्स जनाब!

ये कोई पहला मौका नहीं था, जब पाकिस्तानियों ने अदनान को टि्वटर पर खरी-खोटी सुनाई है. इससे पहले बॉलीवुड गायक सोनू निगम के लाउडस्पीकर-अजान ट्वीट के बवाल के बाद उन्होंने सोनू का समर्थन किया था, जिसके बाद उन्हें कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था. 

इससे पहले स्नैपचैट के चक्कर में अदनान सामी ट्रोल हो चुके हैं. स्नैपचैट के सीईओ के इस बयान के बाद भारत का समर्थन करने पर पाकिस्तानियों ने अदनान को ट्रोल किया था. अदनान ने इन ट्रोलर्स को जवाब देते हुए समझाने की कोशिश की कि उनका यह ट्वीट पाकिस्तानियों के लिए नहीं है. उन्होंने लिखा, 'डियर पाक ट्रोलर्स, मेरा ट्वीट आपके लिए नहीं था. यह स्नैपचैट के खिलाफ था. एक चोट खाए आशिक की तरह बीच में कूदने की कोशिश न करिए. इन सबसे बाहर निकलिए. जय हिन्द.'