Mirzapur-2: ‘गुड्डू भैया’ ने बताया किसे कर रहे हैं सबसे ज्यादा मिस

अली फजल बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपने अभिनय का डंका बजा चुके हैं. उनकी वेब सीरीज मिर्जापुर 2 दर्शकों में खूब पसंद आ रही है. विशेष बातचीत में अली ने बताया है कि उन्हें मिर्जापुर 2 में किसकी कमी सबसे ज्यादा खल रही है.

Mirzapur-2: ‘गुड्डू भैया’ ने बताया किसे कर रहे हैं सबसे ज्यादा मिस
फाइल फोटो

मुंबई: मिर्जापुर (Mirzapur) के ‘गुड्डू भैया’ यानी अली फजल (Ali Fazal) एक ऐसे अभिनेता हैं, जो बॉलीवुड (Bollywood) और हॉलीवुड (Hollywood) के बीच छलांग लगाते रहते हैं. एक तरफ जहां उनकी वेबसीरीज मिर्जापुर-2 दर्शकों को दीवाना बनाये हुए है. वहीं, उनकी हॉलीवुड फिल्म ‘डेथ ऑन द नील’ (Death on the Nile) भी रिलीज के लिए तैयार है. Zee News के सहयोगी चैनल WION से बातचीत में उन्होंने अपने हॉलीवुड प्लान के बारे में खुलकर बातचीत की. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना काल में उन्होंने खुद को कैसे व्यस्त रखा.  

विक्रांत की कमी खलेगी
अली ने कहा कि पिछले कुछ समय में दर्शकों ने हमें हमेशा चर्चा में रखा. मिर्जापुर को लेकर इतने मीम बने कि हमें कुछ और सोचने का मौका ही नहीं मिला. मिर्जापुर 2 के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि पिछले सीजन में स्टोरी जहां खत्म हुई थी, वहीं से शुरू हुई है. ‘मिर्जापुर’ में बबलू (विक्रांत मेसी) और स्वीटी (श्रेया पिलगांवकर) का खून हो जाता है. नए सीजन में गुड्डू और गोलू (श्वेता त्रिपाठी) उनकी मौत का बदला लेंगे. श्वेता के साथ काम के अनुभव को लेकर अली ने कहा, ‘मैंने इससे पहले कभी श्वेता के साथ काम नहीं किया. मिर्जापुर के मुकाबले मिर्जापुर 2 में उनका कैरेक्टर बिल्कुल अलग है. लेकिन मुझे विक्रांत और श्रेया की कमी बहुत खलेगी’.

बिहार विधान सभा चुनावी रैली में पीएम मोदी ने भोजपुरी में लोगों को किया प्रणाम

प्रयोग करना पसंद
अली फजल ने आगे कहा, ‘मुझे प्रयोग करना पसंद है. मैं कुछ नया करने में विश्वास रखता हूं. लॉकडाउन के दौरान मैंने एक फिल्म पूरी की, जिसे दो लोगों ने लिखा और अभिनय किया. जबकि इससे पहले मैंने एक भव्य सेट पर ‘डेथ ऑन द नील’ की शूटिंग की थी. दोनों का अपना अलग अनुभव है’. ‘डेथ ऑन द नील’ में अली फजल का किरदार काफी दमदार है. वह फिल्म में टॉम बेटमैन, चार बार के ऑस्कर नॉमिनी एनेट बेनिंग, रसेल ब्रांड, डॉन फ्रेंच, गैल गैडट, आर्मी हैमर, रोज लिसली, एम्मा मैके, सोफी ओकोनीडो, जेनिफर सॉन्डर्स के साथ नजर आएंगे.

 

हर रोज होती थी पार्टी
फिल्म की शूटिंग के अपने अनुभव को याद करते हुए फजल ने कहा, ‘सेट पर हर दिन एक बड़ी पार्टी होती थी. चूंकि फिल्म के निर्देशक केनेथ ब्रेनघ (Kenneth Branagh) अभिनेता भी हैं, इसलिए वह जानते हैं कि कलाकारों को कैसे खुश रखना है. हम सभी ने वास्तव में बहुत मजा किया’. ‘डेथ ऑन द नील’ में अली गैडट के प्रेमी नहीं बल्कि उस क्रूज पर मौजूद एक यात्री के रूप में नजर आएंगे, जहां कत्ल हो जाता है. फिल्म की कहानी मिस्र की नील नदी पर चल रहे क्रूज के इर्द-गिर्द घूमती है, जहां एक मर्डर हो जाता है. छुट्टियां मानाने के लिए क्रुज पर पहुंचे लोगों की जिंदगी पूरी तरह से तब पलट जाती है, जब पता चलता है कि क्रूज पर किसी का खून हो गया है. हर शख्स शक के घेरे में आ जाता है और हर किसी की नजरें दूसरे को कातिल के रूप में देखती हैं. मर्डर की गुत्थी जब सुलझती है, तो पता चलता है कि जुनून और जलन के चलते कत्ल को अंजाम दिया गया.  

एक और हॉलीवुड फिल्म
केवल ‘डेथ ऑन द नील’ ही नहीं, अली फजल हॉलिवुड की वॉर ड्रामा फिल्म 'कोड नेम: जॉनी वॉकर' (Code Name: Johnny Walker) में भी नजर आएंगे. फिल्म के बारे में ज्यादा न बताते हुए अली ने केवल इतना कहा कि वह फिल्म में जॉनी वॉकर की भूमिका निभा रहे हैं जबकि शेष स्टार कास्ट पर फैसला होना अभी बाकी है. ऋचा चड्ढा के साथ अपने रिश्ते पर बोलते हुए अली ने कहा कि संभव है कि दोनों अलगे साल शादी के बंधन में बंध जाएं.
अली फजल कुछ नए प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं, जिसमें फुकरे-3 भी शामिल है. साथ ही उन्होंने एक एनीमेशन फिल्म भी रिलीज की है, जिसकी शूटिंग उन्होंने लॉकडाउन के दौरान पूरी की थी. फिल्म का नाम ‘तस्वीर’ है, जो कोरोना महामारी पर केंद्रित है.