close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

फिल्म अलोन रिव्यू: हॉरर के तड़के में डर और रोमांच का फुलडोज

बॉलीवुड में डरावनी फिल्मों का बहुत ज्यादा क्रेज नहीं है क्योंकि दर्शकों ने ऐसी फिल्म को काफी कम  सर-आंखों पर बिठाया है। बिपाशा बासु, करन सिंह ग्रोवर अभिनीत फिल्म अलोन में कुछ खास की उम्मीद नहीं की जा सकती है । बिपाशा ने आज तक खुद को किसी इमेज में नहीं बांधा है। इसलिए उनका चुनाव इस तरह की फिल्मों के लिए बॉलीवुड निर्देशक किया करते है। इस तरह की फिल्म का यही मकसद होता है कि दर्शकों को डर के साथ रोमांच और थोड़ा हॉट सींस का तड़का मिले और दर्शक इसमें बंधा रहा। निर्देशक के लिए ऐसी फिल्मों से दर्शकों को बांधकर रखना भी बड़ी चुनौती होती है।

फिल्म अलोन रिव्यू: हॉरर के तड़के में डर और रोमांच का फुलडोज

नई दिल्ली: बॉलीवुड में डरावनी फिल्मों का बहुत ज्यादा क्रेज नहीं है क्योंकि दर्शकों ने ऐसी फिल्म को काफी कम  सर-आंखों पर बिठाया है। बिपाशा बासु, करन सिंह ग्रोवर अभिनीत फिल्म अलोन में कुछ खास की उम्मीद नहीं की जा सकती है । बिपाशा ने आज तक खुद को किसी इमेज में नहीं बांधा है। इसलिए उनका चुनाव इस तरह की फिल्मों के लिए बॉलीवुड निर्देशक किया करते है। इस तरह की फिल्म का यही मकसद होता है कि दर्शकों को डर के साथ रोमांच और थोड़ा हॉट सींस का तड़का मिले और दर्शक इसमें बंधा रहा। निर्देशक के लिए ऐसी फिल्मों से दर्शकों को बांधकर रखना भी बड़ी चुनौती होती है।
 
बॉलीवुड में बिपाशा को हॉरर क्वीन कहा जाता है लेकिन इस फिल्म में वह हॉरर और सेक्स का तड़का लगा पाने में उतनी कामयाब नहीं हुई है। भूषण पटेल इस फिल्म के निर्देशक हैं जिनकी इससे पहले ही हॉरर फिल्म '1920 एविल रिटर्न्स और 'रागिनी एमएमएस 2' पर्दे पर आ चुकी है। 'अलोन', जो साल 2007 में इसी नाम से आई थी, फिल्म का रीमेक है। फिल्म में रोमांस के साथ हॉरर को पेश किया गया है।

अलोन फिल्म में बिपाशा ने दो जुड़वा बहनों का किरदार निभाया है जिनके नाम है संजना और अंजना। दोनों बहनें बचपन से ही एक दूसरे से जुड़ी हुई हैं। बचपन से ही कबीर संजना से प्यार करता है। अंजना भी कबीर से प्यार करती है और कबीर व संजना के प्यार को देखकर वह अपना आपा खो देती है, गुस्सा होती है है। वो चाहती हैं कि कबीर उसे मिल जाए। इसके लिए वह किसी भी हद तक जाती है। इस बीच कहानी आगे बढ़ती है और आत्मा का खेल शुरू होता है....और फिर....। क्या संजना की आत्मा अंजना से बदला ले पाती है? इस रोमांच का खुलासा तो फिल्म के हॉल में ही होगा।

फिल्म की कहानी रोमांचक है । फिल्म के आखिर तक सस्पेंस बना रहता है कि आगे पता नहीं क्या होगा। फिल्म में किरदारों को खूबसूरती से दिखाया गया है। बिपाशा ने शानदार अदाकारी दिखाई है और फिल्म में दोनों रोल में छाई हुई है। बिपाशा ने दोनों बहनों के किरदारों में जान डाल दी है। लेकिन फिल्म के स्क्रिप्ट के औसत होने की वजह से फिल्म का पेस उनके रोल पर कही-कही भारी पड़ता नजर आता है।

टीवी कलाकार करन सिंह ग्रोवर ने बेहतरीन अभिनय किया है जिनकी यह पहली बॉलीवुड फिल्म है । अलोन फिल्म का संगीत अच्छा है। गानों का फिल्मांकन बेहद अच्छा है। खासकर कतरा-कतरा गाने का लोकेशन देखने लायक है। इस फिल्म का फिल्मांकन और कैमरा वर्क शानदार है। बिपाशा की फिल्म होने की वजह से अलोन में खूबसूरत व हॉट सीक्वेंस देखने का मौका दर्शकों को मिल सकता है। कुल मिलाकर अलोन फिल्म एक औसत हॉरर फिल्म है और इसे एक बार देखा जा सकता है। हां एक बात और इस फिल्म में आपको हॉरर, रोमांच के अलावा कॉमेडी का भी तड़का देखने को मिलेगा।