सिंगर सोनू निगम ने मुंडवाया सिर, कहा- 10 लाख लाएं मौलवी

बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम ने सोमवार (17 अप्रैल) की सुबह मस्जिदों में होने वाली अज़ान पर बयान दिया था, जिस पर काफी बहस छिड़ गई थी.  वेस्ट बंगाल माइनॉरिटी यूनाइटेड काउंसिल के उपाध्यक्ष सैयद साह अतेफ अली अल कादरी ने सोनू निगम का सिर मुंडवाने और जूते की माला पहनाने की बात कही थी. 

सिंगर सोनू निगम ने मुंडवाया सिर, कहा- 10 लाख लाएं मौलवी
सोनू निगम ने मुंडवाया सिर (Still grab)

नई दिल्ली : बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम ने सोमवार (17 अप्रैल) की सुबह मस्जिदों में होने वाली अज़ान पर बयान दिया था, जिस पर काफी बहस छिड़ गई थी.  वेस्ट बंगाल माइनॉरिटी यूनाइटेड काउंसिल के उपाध्यक्ष सैयद साह अतेफ अली अल कादरी ने सोनू निगम का सिर मुंडवाने और जूते की माला पहनाने की बात कही थी. 

सोनू निगम ने सिर मुंडवाने के 'फतवे' पर पूछा- क्या यह धार्मिक गुंडागर्दी नहीं है?

कादरी ने यह चुनौती दी थी कि यदि कोई व्यक्ति सोनू निगम का सिर मुंडवाएगा, फटे जूतों की माला पहनाएगा और पूरे देश में घुमाएगा तो वे उसे अपने पास से 10 लाख रुपए का इनाम देंगे. सोनू निगम ने भी इसका करारा जवाब दिया है. सोनू ने अपना सिर मुंडवा लिया है और मौलवी से अब 10 लाख रुपए मांग रहे हैं. सोनू के सिर मुंडवाने की चर्चा सोशल मीडिया पर भी खूब हो रही है. 

सिर मुंडवाने के बाद सोनू निगम ने कहा कि मेरा उद्देश्‍य किसी को चोट पहुंचाना या किसी की भी धार्मिक भावनाओं को आहत करना नहीं था. उन्‍होंने दुख जताया है कि लोगों ने उनका मुद्दा समझने के बजाए उनकी बात को पकड़ा और उसके खिलाफ विवाद खड़ा कर दिया. 

सोनू ने अपने दावे को पूरा करते हुए अपना सिर मुंडवा का फैसला लिया है और इस काम के लिए उन्‍होंने अपने मुस्लिम दोस्‍त आलिम को चुना. आलिम हकीम सेलेब्रिटी हेयरस्‍टाइलिस्‍ट हैं. सोनू निगम ने कहा, मैं सोच भी नहीं सकता था कि इतनी छोटी सी बात इतनी बड़ी बन जाएगी.

मुस्लिम लड़की ने पूछे सोनू निगम से तीखे सवाल, 30 लाख से ज्यादा लोग देख चुके ये वीडियो

गौर हो कि अपने नाम का फतवा जारी होने के बाद बुधवार सुबह सोनू निगम ने ट्वीट किया था.

अपने ट्वीट्स के बाद से सोनू निगम लगातार कह रहे हैं कि उनका ये ट्वीट मुस्लिमों को आहत करने के लिए नहीं था, बल्कि हर धर्म के लिए था. डीएनए में छपी एक खबर के मुताबिक, कादरी ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि किसी को दूसरे धर्म के लोगों की भावनाओं को आहत करने का अधिकार नहीं है. उन्होंने कहा कि यदि मंदिर के बारे में भी कोई इस तरह की बात करता तो ऐसे ही वे ऐसी ही प्रतिक्रिया देते.

जो मेरे धर्म के खिलाफ बोलेगा, मैं उसका सम्मान नहीं कर सकता : एजाज खान

कादरी ने तो यहां तक कह दिया कि सोनू निगम जैसे लोगों को देश के बाहर कर देना चाहिए. इसके साथ ही संस्था के महासचिव साबिर अली ने कहा कि गायक सोनू निगम ने पब्लिसिटी के लिए इस तरह की बात ट्वीट पर लिखी है. उन्होंने कहा कि मुस्लिम सुबह नमाज के लिए उठते हैं तो हिंदू सूर्य नमस्कार के लिए सुबह उठते हैं. ऐसे में सुबह उठना तो ठीक है. उन्होंने यहां तक कह दिया कि सोनू निगम पीछे हो रहे हैं और अरिजीत सिंह को ज्यादा काम मिल रहा है. इस मुद्दे पर सोनू निगम ने भी ट्वीट कर इस बारे में पूछा है कि ‘क्या यह धार्मिक गुंडागर्दी नहीं है?’

इस बीच इलाहाबाद में कांग्रेस के एक नेता ने सोनू निगम के इस बयान का कड़ा विरोध करते हुए उन्हें जूते मारने वाले को लाखों रुपए ईनाम देने का ऐलान कर दिया है. इलाहाबाद कांग्रेस कमेटी के महासचिव हसीब अहमद का कहना है कि सोनू निगम को कोई भी शख्स जितने जूते मारेगा, वह उसे उतने लाख रूपये इनाम देंगे.

सोनू निगम ने फिर किया ट्वीट, कहा- मैं अब भी अपने बयान पर कायम हूं

ईनाम घोषित करने वाले हसीब अहमद का कहना है कि सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए विवादास्पद बयान देने वाले सोनू निगम जैसे लोगों का अब यही इलाज है.  सोनू निगम ने लिखा था कि सुबह लाउडस्पीकर से दी जाने वाली अजान से उनकी नींद खराब होती है और जब वह मुस्ल‍िम नहीं हैं तो वह इस धार्मिक कट्टरता को बर्दाश्त करें. ऐसा करना तो सरासर गुंडागर्दी है.

मैं मुसलमान नहीं हूं, फिर भी जबरन अज़ान की वजह से जागना पड़ता है : सोनू निगम

 

हालांकि, सोनू निगम ने अपने निशाने पर मंदिर और गुरुद्वारों में बजने वाले लाउडस्पीकर को भी लिया था.