Birthday Special : धर्मेंद्र ने स्कूल से बंक मारकर 40 बार देखी थी यह फिल्म

धमेंद्र को फिल्म इंडस्ट्री के सुपरमेन की तरह देखा जाता है, जो कभी तो एक दम भोला-भाला इंसान नजर आते हैं तो कभी लगता है कि दुनिया में इनसे तेज गुस्सा किसी का नहीं होगा. 

Birthday Special : धर्मेंद्र ने स्कूल से बंक मारकर 40 बार देखी थी यह फिल्म

नई दिल्ली: धमेंद्र भारतीय फिल्म इंडस्ट्री का एक ऐसा नाम है जिसने बॉलीवुड के बचपन से लेकर अब तक का समय देखा है, बॉलीवुड के ब्लैक एंड वाइट दौर से रंगीन पर्दे से लेकर आज के एचडी और थ्रीडी सिनेमा किसी भी दौर में आप धमेंद्र अपनी अदाकारी के जलवे बिखेरते रहे हैं. लेकिन धर्मेंद्र की फिल्मों को लेकर दीवानगी उनकी स्कूल के समय से ही थी. आज धर्मेंद्र अपना 83 वां जन्मदिन मना रहेे हैं.  

क्या आप जानते हैं कि एक फिल्म ऐसी भी है जिसे इस स्टार ने स्कूल से बंक मारकर एक ही फिल्म को 40 बार सिनेमाहॉल में देखा था. जी हां चौंकिए मत 1949 में आई फिल्म 'दिल्लगी' को धर्मेंद्र ने पूरे 40 बार देखा था. एआर करदार इस फिल्म के निर्देशन और निर्माता थे, नौशाद ने इस फिल्म में म्यूजिक दिया था. यह भारतीय सिनेमा की चौथी सबसे मोटी कमाई करने वाली फिल्म थी. इन्हीं निर्देशक करदार ने कई साल बाद ब्लॉक बस्टर 'दिल दिया दर्द लिया' बनाई थी.

धर्मेंद्र का जन्म फगवाड़ा पंजाब के कपूरथला में पैदा हुए. उनकी पहली शादी प्रकाश कौर से 19 वर्ष की उम्र में 1954 में हुई. उनकी दूसरी शादी बॉलीवुड अभिनेत्री हेमा मालिनी के साथ हुई. आज की तारीख में उनके दोनों बेटे सनी देओल और बॉबी देओल भी फिल्मों में लंबी पारी खेल चुके हैं. बेटी इशा देओल ने भी कई फिल्मों में बतौर लीड एक्ट्रेस काम किया. वहीं अब जल्द ही उनके पोते भी फिल्मों में डेब्यू करने की तैयारी में हैं. 

नहीं रहे धर्मेंद्र को ब्रेक देने वाले निर्देशक-निर्माता, ऋषि कपूर भी हुए भावुक

यादगार पल 
धर्मेन्द्र अपने स्टंट दृश्य बिना डुप्लीकेट की सहायता के स्वयं ही करते थे. धर्मेंद्र ने चिनप्पा देवर की फ़िल्म 'मां' में एक चीते के साथ सही में फाइट किया था. इस तरह से रिस्क लेकर काम करने वाले धर्मेंद्र पहले भारतीय एक्टर हैं. 

रो पड़ते हैं धर्मेंद्र 
फिल्मों में स्ट्रांग और पावरफुल नजर आने वाले धर्मेंद्र का मन इतना कोमल है कि वह दोस्तों के लिए सबके सामने फूट-फूट कर रो पड़ते हैं. हाल ही में एक्टर, प्रोड्यूसर और डायरेक्टर संजय खान ने बताया कि जब वह टीपू सुल्तान की शूटिंग में हुए हादसे के बाद हॉस्पिटल में पड़े थे, तो उन्हें बस यह याद है कि धर्मेंद्र बच्चों की तरह बिलख कर रो रहे थे. वह डॉक्टर से अपने दोस्त को बचाने की भीख मांग रहे थे. इसके अलावा भी कई मौकों पर धर्मेंद्र को रोते देखा गया है.  

'यमला पगला दीवाना फिर से' की शूटिंग जल्द होगी खत्म, इस अंदाज में धर्मेंद्र ने किया खुलासा

फ़िल्मफेयर की एक प्रतियोगिता के दौरान अर्जुन हिंगोरानी को धर्मेंद्र पसंद आ गये और हिंगोरानी जी ने अपनी फ़िल्म 'दिल भी तेरा हम भी तेरे' के लिये 51 रुपये साइनिंग एमाउंट देकर उन्हें हीरो की भूमिका के लिये अनुबंधित कर लिया. पहली फ़िल्म से कुछ विशेष पहचान नहीं बन पाई थी. लेकिन बाद में कई फिल्मों में धर्मेंद्र ने अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें