close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

स्वरा भास्कर ने लिखा- मुगलों ने भारत को बनाया अमीर देश, लोग बोले- हिंदुओं के नाम...

यह पहला मौका नहीं है जब स्वरा भास्कर को लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ा हो. वह अधिकतर इसका शिकार होती रहती हैं.

स्वरा भास्कर ने लिखा- मुगलों ने भारत को बनाया अमीर देश, लोग बोले- हिंदुओं के नाम...
स्वरा भास्कर ने लिखा कि मैंने एक इतिहासकार द्वारा लिखा गया 2 साल पुराना एक आर्टिकल शेयर किया है.

नई दिल्ली: स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) बॉलीवुड की उन सेलिब्रेटीज में से एक हैं, जिन्हें सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा ट्रोल किया जाता है. स्वरा भास्कर सोशल मीडिया पर राजनीतिक और सामजिक मुद्दों पर खुलकर अपनी राय रखती हैं. वहीं, एकबार फिर से स्वरा भास्कर एक लेख (आर्टिकल) को शेयर करने के बाद ट्रोलर्स के निशाने पर आ गई हैं. दरअसल, स्वरा भास्कर द्वारा शेयर किए गए लेख में कहा गया है कि मुगलों ने भारत को लूटा नहीं, बल्कि अमीर देश बनाया है.  

 

 

दरअसल, स्वरा भास्कर ने जो लेख शेयर किया है, उसके अनुसार भारत में मुगल विजेता के रूप में आए थे लेकिन, वह भारतीय के रूप में याद किए जाते हैं. मुगलों को उपनिवेशवादी के रूप में नहीं जाना जाता है. आर्टिकल के अनुसार, मुगलों ने भारत में व्यापार को बढ़ाने के लिए सड़कों, समुद्री मार्गों, बंदरगाहों को विकसित किया. लेख के अनुसार, मुगलों के शासनकाल के दौरान हिंदू सबसे अमीर हुआ करते थे. 

 

 

स्वरा भास्कर द्वारा इस लेख के शेयर करते ही सोशल मीडिया पर लोगों ने उनको निशाने पर ले लिया है. लोगों ने स्वरा भास्कर पर सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं. सोशल मीडिया पर एक यूजर ने लिखा है कि यह सच है. मुगलों ने भारत के अमीर बनाया. मंदिरों को तोड़ने, गरीबी बढ़ाने, काफिरों को मारने, हिंदुओं पर जजिया लगाने, गुलाम व्यवस्था को बढ़ाने के मामले में काफी अमीर किया. 

 

 

वहीं, कई लोगों ने लेख पर सवाल उठाते हुए लिखा कि मुगलों ने  हत्याएं की, देश को लूटा और इन सबके बावजूद आपको लगता है कि उन्होंने हमारे देश को अमीर बनाया. मुगलों का समर्थन करने पर लोगों ने स्वरा भास्कर के खिलाफ जमकर नाराजगी जाहिर की. 

 

 

बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब स्वरा भास्कर को लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ा हो. वह पहले भी कई बार सोशल मीडिया के लोगों के गुस्से का शिकार हो चुकी हैं. वहीं, लोगों के गुस्से का सामना कर रहीं स्वरा भास्कर ने लिखा कि मैंने एक इतिहासकार द्वारा लिखा गया 2 साल पुराना एक आर्टिकल शेयर किया है. यह व्हाट्सएप और ट्विटर पर पर फैलाए जा रहे मैसेज से अलग एक इतिहासकार द्वारा लिखा गया है. स्वरा ने लिखा कि मुझ पर निशाना साधने वाले लोगों में से ज्यादातर ने यह लेख पढ़ा भी नहीं होगा. उन्होंने लिखा कि संघियों के मुगलों द्वारा लूटे जाने के स्टीरियोटाइप पर बहस करने के लिए इसे शेयर किया गया था.