'दबंग 3' को बॉयकॉट करने का अभियान हुआ तेज, सीबीएफसी को लिखा गया लेटर

सोशल मीडिया के एक वर्ग द्वारा फिल्म के टाइटल गाने में भगवा पहले साधुओं को गिटार के साथ नाचते दिखाए जाने को लेकर आपत्ति जताने के बाद विवाद शुरू हुआ.

'दबंग 3' को बॉयकॉट करने का अभियान हुआ तेज, सीबीएफसी को लिखा गया लेटर
सलमान खान और निर्माताओं ने इस मुद्दे पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है (फिल्म पोस्टर)

नई दिल्ली: आगामी फिल्म 'दबंग 3 (Dabangg 3)' में जहां हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करने को लेकर शुक्रवार सुबह से ही ट्विटर पर 'हैशटैग बॉयकॉट दबंग 3' अभियान चलाया जा रहा है, वहीं बेंगलुरू के एक एनजीओ हिंदू जनजागृति समिति ने फिल्म के सेंसर सर्टिफिकेट को रद्द करने की मांग की है. सोशल मीडिया के एक वर्ग द्वारा फिल्म के टाइटल गाने में भगवा पहले साधुओं को गिटार के साथ नाचते दिखाए जाने को लेकर आपत्ति जताने के बाद विवाद शुरू हुआ.

सलमान खान की फिल्म विवाद में फंसी, ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है #BoycottDabangg3

सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशंस (सीबीएफसी) के बेंगलुरू कार्यालय में दिए गए पत्र में एनजीओ ने लिखा है, "आगामी फिल्म 'दबंग 3', जिसमें हिंदू धर्म का अपमान किया गया है, हम उसके सेंसर सर्टिफिकेट को रद्द करने की मांग करते हैं." पत्र में आगे लिखा गया है, "'दबंग 3' फिल्म को सलमान खान फिल्मसिन ने प्रोड्यूस किया है, फिल्म के ट्रेलर में गाना 'मैं हूं दबंग दबंग, हुड हुड दबंग!' में हिंदू साधुओं को आपत्तिजनक डांस करते दिखाया गया है. गाने में श्रीकृष्ण, श्रीराम और भगवान शंकर को हीरो को आर्शीवाद देते दिखाया गया है. इस तरह यह गाना हिंदू धर्म, देवताओं और साधुओं का अपमान करता है. प्रोड्यूसर ने व्यवस्थित तरीके से हिंदू धर्म पर आघात किया है. इस गाने ने हिदुओं की भावनाओं को चोट पहुंचाया है, इसलिए इस गाने को और अन्य आपत्तिजनक दृश्यों को फिल्म से हटाया जाना चाहिए."

पत्र के अंश को एक ट्विटर यूजर ने साझा किया है. पत्र में आगे कहा गया है, "उपर्युक्त कारणों के कारण हम आपसे इस अपमानजनक फिल्म के सेंसर सर्टिफिकेट को रद्द करने की गुजारिश करते हैं." सलमान खान और निर्माताओं ने इस मुद्दे पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.