close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आयुष्मान की 'आर्टिकल 15' को मिला UA सर्टिफिकेट, सेंसर बोर्ड ने फिल्म में लगाए पांच कट

130.37 मिनट लंबी इस फिल्म में ईशा तलवार, एम नास्सर, मनोज पहवा, सयानी गुप्ता, कुमुद मिश्रा और मुहम्मद जीशान अयूब भी शामिल हैं. बनारस मीडिया वर्क्‍स और जी स्टूडियोज ने मिलकर इसे प्रोड्यूस किया है. 

आयुष्मान की 'आर्टिकल 15' को मिला UA सर्टिफिकेट, सेंसर बोर्ड ने फिल्म में लगाए पांच कट
आयुष्मान खुराना (फोटो साभार- @@ayushmannk)

नई दिल्ली: फिल्मकार अनुभव सिन्हा की फिल्म 'आर्टिकल 15' को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) ने पांच सुझाए गए संशोधनों के बाद यूए प्रमाणपत्र दिया है. 'आर्टिकल 15' में दिखाया गया है कि समाज में जातिगत भेदभाव किस तरह से फैला हुआ है. फिल्म के निर्माताओं ने एनिमल वेलफेयर बोर्ड ऑफ इंडिया (एडब्ल्यूबीआई) से एक अनुपालन प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया और फिल्म की शुरुआत में डिसक्लेमर के साथ हिंदी में एक वॉयसओवर जोड़ा. इसके बाद सेंसर ने आयुष्मान खुराना अभिनीत इस फिल्म को अभिभावकीय सलाह के साथ अप्रतिबंधित सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए सही पाया. 

सीबीएफसी की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, सेंसर बोर्ड द्वारा सुझाए गए संशोधनों में आग में एक झंडे के गिरने के एक दृश्य को हटाया गया, कुछ गालियों को हटाया गया और इसके साथ ही मारपीट के दृश्यों को 30 प्रतिशत कम किया गया. 130.37 मिनट लंबी इस फिल्म में ईशा तलवार, एम नास्सर, मनोज पहवा, सयानी गुप्ता, कुमुद मिश्रा और मुहम्मद जीशान अयूब भी शामिल हैं. बनारस मीडिया वर्क्‍स और जी स्टूडियोज ने मिलकर इसे प्रोड्यूस किया है. 

वहीं फिल्म के लीड एक्टर आयुष्मान खुराना का मानना है कि 'अंधाधुन' और 'बधाई हो' समेत उनकी फिल्मों को मिली एक के बाद एक सफलता ने उनके भीतर 'आर्टिकल 15' जैसी मुश्किल फिल्म करने का भरोसा पैदा किया. फिल्म 'मुल्क' से प्रसिद्ध हुए निर्देशक अनुभव सिन्हा ने 'आर्टिकल 15' के जरिये जातिवाद जैसे संवेदनशील मुद्दे को उठाया है. फिल्म अभिनेता आयुष्मान ने कहा कि वह हमेशा से 'आर्टिकल 15' जैसी मुश्किल और सामाजिक रूप से प्रासंगिक फिल्म का हिस्सा बनना चाहते थे. 

आयुष्मान खुराना की ख्वाहिश हुई पूरी, 'ऑर्टिकल 15' में निभाएंगे कड़क पुलिस ऑफिसर का रोल

बता दें कि 'आर्टिकल 15' का ट्रेलर 30 मई को रिलीज कर दिया गया है जिसे देखकर आप रो पड़ेंगे. ऊंची-नीची जाति के नाम पर सदियों से लोगों पर अत्याचार किए गए हैं और उसका सबसे ज्यादा खामियाजा औरतों को भुगतना पड़ा है. फिल्म की कहानी 2014 में बदायूं गैंगरेप पर आधारित है. बता दें कि इस गैंगरेप की घटना ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था. 28 जून फिल्म 'आर्टिकल 15' रिलीज हो रही है. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें