कांग्रेसी कर रहे Sonu Sood का विरोध, सोशल मीडिया पर कहा- 'BJP एजेंट'

सोशल मीडिया पर  सोनू सूद (Sonu Sood) को 'मजदूरों का मसीहा' कहा जा रहा है. अब तो उन्होंने एक हेल्पलाइन नंबर भी इसके लिए जारी कर दिया है. लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सोनू सूद का यह नेक काम पसंद नहीं आ रहा है.

कांग्रेसी कर रहे Sonu Sood का विरोध, सोशल मीडिया पर कहा- 'BJP एजेंट'
फाइल फोटो

नई दिल्ली: एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) बीते दिनों से लगातार प्रवासी मजदूरों की मदद में जुटे हैं. कोरोना वायरस महामारी के कारण हुए लॉकडाउन के कारण लाखों लोग महाराष्ट्र के अलग अलग हिस्सों में फंस गए थे, जिन्हें तपती गरमी में पैदल चलता देखकर सोनू सूद ने बसों की व्यवस्था की है. अब प्रवासियों के लिए सोनू सूद (Sonu Sood) किसी सुपरहीरो से कम नहीं है. सोशल मीडिया पर उन्हें 'मजदूरों का मसीहा' कहा जा रहा है. वह लगातार बिना रुके ये काम कर रहे हैं और अब तो उन्होंने एक हेल्पलाइन नंबर भी इसके लिए जारी कर दिया है. लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सोनू सूद का यह नेक काम पसंद नहीं आ रहा है.

अब कुछ लोग सोशल मीडिया पर सोनू सूद (Sonu Sood) को लेकर विरोध कर हैं. जी हां! कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता अब सोनू सूद के काम को साजिश बताने पर आमदा हैं. वह अपनी नेकी और दरियादिली के कारण जहां आम इंसान के लिए हीरो बन चुके हैं वहीं अपनी इस अच्छाई के चलते सोनू अब कांग्रेस के निशाने पर हैं. लोगों का कहना है कि महाराष्ट्र सरकार को नाकामयाब दिखाने के लिए सोनू सूद BJP के इशारों पर ये काम कर रहे हैं. 

 

 

 

आपको याद दिला दें कि हाल ही में बीते शनिवार यानी 30 मई को सोनू सूद महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिले थे. जिसके बाद से वह कांग्रेसियों के निशाने पर आ चुके हैं. इसके तुरंत बाद सोनू सूद के ऊपर कांग्रेस समर्थकों ने हमला बोला. उन्होंने सोनू सूद को बीजेपी का एजेंट करार देते हुए कहा कि वो अच्छा काम इसलिए कर रहे हैं, ताकि राज्य में कांग्रेस  एनसीपी और शिवसेना की सरकार को बुरा दिखाया जा सके.

 

 

इतना ही नहीं सोनू सूद (Sonu Sood) की तुलना यहां लोगों ने अन्ना हजारे के साथ भी की कर दी, जिन्होंने इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन शुरू किया, जिसके कारण अंततः आम आदमी पार्टी का निर्माण हुआ और कांग्रेस की सत्ता छिन गई. 

ये भी देखें...

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें