Irrfan Khan की 'उजड़ी' कब्र देख फैन ने पत्नी सुतपा को मारा ताना, मिला ऐसा करारा जवाब

फोटो में इरफान के कब्र की हालत खराब दिख रही है, जिस पर प्रशंसकों ने दुख जताया है.

Irrfan Khan की 'उजड़ी' कब्र देख फैन ने पत्नी सुतपा को मारा ताना, मिला ऐसा करारा जवाब
Irrfan Khan and his Wife Sutapa (File Photo)

नई दिल्लीः अभिनेता इरफान खान (Irrfan Khan) के निधन से अभी भी उनके फैंस और करीबी उबर नहीं पाए हैं. इस साल अप्रैल में उनका देहांत हुआ था. वह बीमार थे और न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से जूझ रहे थे. हाल ही में एक्टर चंदन रॉय सान्याल ने उनकी कब्र की एक फोटो खींच कर सोशल मीडिया पर डाली थी, जिसे देख कर फैंस काफी भावुक हो रहे हैं. इस फोटो पर इरफान के चाहने वालों ने खूब कमेंट किए और अपनी तरह से उन्हें याद किया.

वर्सोवा के कब्रिस्तान में है इरफान की मजार
अभिनेता चंदन रॉय सान्याल ने इंस्टाग्राम पर इरफान की कब्र की फोटो पोस्ट की थी. उन्होंने इसके साथ लिखा था कि पिछले कुछ दिनों से इरफान खान की याद सता रही थी, इसलिए वह उनकी मजार पर गये थे. चंदन ने लिखा कि वह रजनीगंधा लेकर गये थे और उनकी कब्र के सिरहाने रख दिया था. इसके बाद उनका बोझ थोड़ा कम हुआ. इरफान वर्सोवा के मुस्लिम कब्रिस्तान में दफनाए गए थे.

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chandan Roy Sanyal (@iamroysanyal) on

प्रशंसक ने क्रब की कुड़ेदान से की तुलना
फोटों में इरफान के कब्र की हालत खराब दिख रही है, जिस पर उनके एक प्रशंसक ने दुख जताया है. मोनिका मुखर्जी नाम की इस प्रशंसक ने इरफान की पत्नी सुतापा सिकदर को टोका है. उन्होंने लिखा था, 'प्रिय सुतापा, हाल ही मैंने इरफान भाई की कब्र की एक फोटो देखी है. मेरा दिल दुखी हुआ, क्योंकि उन्हें गए हुए कुछ महीने ही हुए हैं और उनकी कब्र कूड़ेदान जैसी दिखने लगी है. मैंने सोचा था कि आपने उनके पास रात की रानी का पौधा लगाया होगा, क्योंकि उन्हें यह पौधा पसंद था. क्या हो गया है? अगर यह फोटो सही है, तो यह शर्म की बात है. अगर आपके पास उनके कब्र की कोई सच्ची फोटो है तो कृपया उसे शेयर करें.’

फैंस सुतापा के जवाब से हुए खुश
प्रशंसक के कमेंट पर सुतापा सिकदर (Sutapa Sikdar) के जवाब ने लोगों का दिल जीत लिया. इरफान की पत्नी सुतापा सिकदर ने इस प्रशंसक को बेहद खूबसूरत जवाब दिया है, जिसे लोगों ने सराहा भी. 

उन्होंने जवाब में लिखा, ‘औरतों को कब्रिस्तान में जाने की इजाजत नहीं होती है. इसलिए मैंने रात की रानी इगतपुरी में लगाया था, जहां उनकी स्मृति-पट्टिका भी लगी है. वहीं मैंने उनकी कुछ और पसंदीदा चीजें भी दफ्नाई हैं. वह जगह मेरी है, जहां मैं बिना किसी रोक-टोक के घंटों बैठ सकती हूं. उनकी रूह वहीं हैं. लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि कब्र को ऐसे ही छोड़ दिया जाए... बारिश में जंगली पौधे उग ही जाते हैं. जिस फोटो की आप बात कर रही हैं, उसमें मुझे यह जंगली पौधे खूबसूरत लगे. बारिश में पौधे उगते हैं और फिर अगले मौसम में वह सूख जाते हैं. फिर उसे साफ किया जा सकता है. क्या हर चीज का ठीक वैसा होना जरूरी है, जैसे उसे परिभाषित किया जाता है? ध्यान से देखें, तो पाएंगे कि पौधे किसी मकसद के तहत बढ़ रहे हैं.’

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें