'जोहराबाई' फिल्म महिलाओं के संघर्ष पर आधारित है, डायरेक्टर ने बताई स्टोरी

इस फिल्म की शूटिंग जल्द ही सिनेक्राफ्ट मकेर्स प्रोडक्शन के बैनर तले दिल्ली से ही शुरू की जाएगी.

'जोहराबाई' फिल्म महिलाओं के संघर्ष पर आधारित है, डायरेक्टर ने बताई स्टोरी
'जोहरा बाई' यह फिल्म एक सच्ची घटना पर आधारित है जो बिहार की तवायफ की जद्दोजहद पर आधारित है.

नई दिल्ली: समाज में महिलाओं की दुर्दशा पर "जोहराबाई" नामक फिल्म जल्द ही सिने स्क्रीन पर देखने को मिलेगी. समाज की दबी कुचली और शोषित महिलाओं पर फिल्माई जाने वाली यह फिल्म क्लासिक होगी. यह बातें फिल्म डायरेक्टर उदय सेनापति ने बताईं.

उत्तर प्रदेश के देवरिया के एक छोटे से गांव खेमादेही के रहने वाल सेनापति ने बताया, यह फिल्म एक सच्ची घटना पर आधारित है जो बिहार की तवायफ की जद्दोजहद पर आधारित है. इस फिल्म के लिए कलाकारों की सलेक्शन प्रक्रिया कनॉट प्लेस के एटिक ऑडिटोरियम में की गई, जिसमें दिल्ली के स्थानीय कलाकारों का जमावड़ा रहा. डायरेक्टर ने बताया गया कि इस फिल्म की शूटिंग जल्द ही सिनेक्राफ्ट मकेर्स प्रोडक्शन के बैनर तले दिल्ली से ही शुरू की जाएगी.

इस मौके पर बताया गया कि फिल्म के डायरेक्टर उदय सेनापति की लिखित किताब 'फिल्म मेकिंग' को कैलिफोनिया के एक यूनिवर्सिटी में टेस्ट बुक के रूप में शामिल किया गया है. साथ ही भारत में 8 यूनिवर्सिटी में भी इस किताब को टेस्ट बुक के रूप में शामिल किया गया है.

फिल्म मेकिंग सब्जेक्ट पर किताब लिखने वाले उदयजी विश्व के तीसरे और भारत के पहले लेखक हैं,  जिन्होंने इस विषय को गंभीरता से अपनी लेखनी के जरिए पेश किया है. जल्द ही इस किताब का हिन्दी एडिशन भी आने वाला है जो कि इस तरह की विश्व में पहली किताब होगी. इस प्रेस वार्ता के दौरान फिल्म के लेखक प्रेम सागर सिंह, संगीतकार तरुण भल्ला, सिंगर गुल सक्सेना रत्नादास, आलम खान व त्रिलोका मिडिया नेटवर्क के डायरेक्टर राकेश रौनक सिंह मौजूद थे.

बॉलीवुड की और भी खबरें पढ़ें