close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नसीरूद्दीन शाह सफल लोगों को पसंद नहीं करते:जावेद अख्तर

गीतकार..पटकथा लेखक जावेद अख्तर ने राजेश खन्ना के खिलाफ बयान देने के लिए नसीरूद्दीन शाह की आलोचना की है। नसीरूद्दीन शाह ने हाल में कहा था कि 1970 के दशक में बॉलीवुड फिल्मों के ‘औसत दर्जे’ का होने के लिए राजेश खन्ना जिम्मेदार हैं। हालांकि अख्तर ने कवि और गीतकार गुलजार की जमकर प्रशंसा की।

नसीरूद्दीन शाह सफल लोगों को पसंद नहीं करते:जावेद अख्तर

बेंगलुरू: गीतकार..पटकथा लेखक जावेद अख्तर ने राजेश खन्ना के खिलाफ बयान देने के लिए नसीरूद्दीन शाह की आलोचना की है। नसीरूद्दीन शाह ने हाल में कहा था कि 1970 के दशक में बॉलीवुड फिल्मों के ‘औसत दर्जे’ का होने के लिए राजेश खन्ना जिम्मेदार हैं। हालांकि अख्तर ने कवि और गीतकार गुलजार की जमकर प्रशंसा की।

‘अट्टा गलाटा’ की तरफ से आयोजित पहले बेंगलुरू कविता उत्सव में हिस्सा लेने आए अख्तर ने कहा, ‘नसीरूद्दीन शाह सफल लोगों को पसंद नहीं करते। मैंने उन्हें कभी भी सफल लोगों की प्रशंसा करते नहीं सुना। वह दिलीप कुमार की आलोचना करते हैं। वह अमिताभ बच्चन की आलोचना करते हैं।’ शाह के बयान की काफी आलोचना हुई थी और अख्तर के कभी सहयोगी रहे सलीम खान ने उनके बयान को ‘निराशाजनक और कड़वाहटपूर्ण’ बताया था।वहीं अख्तर ने गुलजार के लिखे गानों की प्रशंसा की।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘जब मैं उनके गाने सुनता हूं तो मुझे पूछना नहीं पड़ता है कि इसे किसने लिखा है। आसानी से पता चल जाता है कि यह गुलजार का गीत है और काल्पनिक कविता लिखना आसान काम नहीं है।

आप इसे कमतर नहीं आंक सकते। बहुत कम लेखक यह उपलब्धि हासिल कर सकते है। वास्तव में मैं उनके कार्यों का बहुत सम्मान करता हूं।’ अख्तर ने कहा कि गुलतार से तुलना की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि उनका और गुलजार का अलग स्टाइल है।

उन्होंने कहा, ‘तुलना करने की जरूरत नहीं है। अलग..अलग लेखकों की अलग शैली होती है। इसलिए कोई भी स्टाइल अच्छा काम और बुरा काम दोनों परिणाम दे सकता है।’