राबिया खान ने लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखकर कहा- 'बेटी जिया की तरह सुशांत की भी हुई है हत्या'

सुशांत सिंह मामले की सीबीआई जांच हो, सोशल मीडिया पर ये एक मुहिम की तरह चल पड़ा है, अब जिया खान की मां राबिया खान ने भी इसका समर्थन करते हुए एक पोस्ट शेयर किया है.

राबिया खान ने लंबा-चौड़ा पोस्ट लिखकर कहा- 'बेटी जिया की तरह सुशांत की भी हुई है हत्या'
सुशांत सिंह राजपूत (File Photo)

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) आत्महत्या मामले में मुंबई पुलिस की जांच से उनका परिवार संतुष्ट नहीं है. सुशांत सिंह की बहन श्वेता कीर्ति ने एक दिन पहले फेसबुक पर एक वीडियो के साथ पोस्ट शेयर किया जिसमें उन्होंने कहा था कि हमें सच जानने का हक है और सुशांत केस की सीबीआई जांच हो. श्वेता के इस वीडियो के बाद से उनके समर्थन में कई बॉलीवुड सितारे आ गए और सभी एक से  बाद एक सुशांत केस में सीबीआई जांच की मांग करते हुए अपने वीडियो और पोस्ट शेयर करने लगे. अब दिवंगत एक्ट्रेस जिया खान की मां राबिया खान भी इस मुहिम के साथ जुड़ गई हैं और सुशांत मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए उन्होंने सोशल मीडिया पर लंबा-चौड़ा पोस्ट शेयर किया है. 

राबिया खान का कहना है कि जिस तरह से उनकी बेटी की हत्या को आत्महत्या का नाम देकर केस को बंद कर दिया गया उसी तरह से सुशांत के मामले में भी किया जा रहा है. राबिया ने केस की सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि पुलिस पर राजनीतिक दवाब के चलते सच सामने नहीं आ पाता है. 

राबिया ने अपनी पोस्ट में लिखा, 'जिया खान की तरह ही सुशांत सिंह को भी मारा गया और मुझे इससे ज्यादा मजबूर, बेबस और उदास पहले कभी नहीं महसूस हुआ. सुशांत और जिया को पहले झूठा प्यार दिया गया. जब दोनों उनके नार्सिस्ट साइकोपैथ‍िक गैस लाइट‍िंग पार्टनर्स के जाल में फंस गए तो उन्हें शारीरिक तौर पर नुकसान पहुंचाया गया और उन्हें गाली दी गई. दोनों को पैसों के लिए इस्तेमाल किया गया और उन्हें पर‍िवार और चाहने वालों से दूर कर दिया गया. जिया और सुशांत को मानस‍िक तौर पर कमजोर कर दिया गया. उनके लिए ये बताया गया कि वो काम के चलते डिप्रेशन में थे. जब वो अपना कंट्रोल खोते गए तो उनकी हिंसक मौत को आत्महत्या का नाम दे दिया गया.'

इसके आगे राबिया ने अपनी पोस्ट में लिखा, 'जिया खान और सुशांत के नार्स‍िस्ट‍िक क्रिमिनल पार्टनर्स ताकतवर बॉलीवुड माफ‍िया और नेताओं से जुड़े हैं. राजनीतिक दबाव के कारण पुलिस सच सामने नहीं ला पा रही है. उन्होंने अपना पूरा समय सबूत मिटाने और इस हिंसक मौत को आत्महत्या करार देने में बिताया है. अपनी इस मनगढ़ंत कहान‍ियों के समर्थन के लिए वो बॉलीवुड माफ‍िया और उनके सिंड‍िकेट मीड‍िया का सहारा लेते हैं. डिप्रेशन कहानी के प्रचार के लिए ये लोग महेश भट्ट को एंकर की तरह इस्तेमाल करते हैं'.

इसके साथ ही उन्होंने लिखा, 'जनता के मन में संदेह पैदा करने के लिए ये अपराधी, पीड़ित के पर‍िवार पर पैसों की लालच में गलत परवर‍िश, व्यक्तिगत प्रतिष्ठा जैसे इल्जामों से हमला करते हैं. सीबीआई को इस मामले में तह तक जाकर जांच करनी चाहिए और इन अपराध‍ियों को सजा दिलवानी चाहिए. वरना ये और हैवान बन जाएंगे और उनके इस बुरे काम को और बढ़ावा मिलेगा. जिया और सुशांत की तरह ये लोग दूसरे मासूमों को भी मारते रहेंगे. इस तरह के अपराध अब खत्म होने चाहिए.'

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें