Breaking News
  • #ImmunityConclaveOnZee : केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि कोरोना की दवा पर शोध जारी है.
  • #ImmunityConclaveOnZee : श्रीपद नाइक ने कहा - 6-7 सप्ताह में शोध पूरा हो जाएगा.
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '8 बजे नाश्ता, 12 बजे दोपहर का खाना, शाम को 8 बजे तक खाना खा लें'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, 'भगवान ने हमें इंसान बनाकर दुनिया की सबसे बड़ी दौलत दी है'
  • #ImmunityConclaveOnZee : स्वामी रामदेव बोले, '6 घंटे की नींद जरूर पूरी करें और उससे ज्यादा सोएं भी नहीं'

Entertainment News: Kangana Ranaut ने चीनी ऐप बैन होने पर अपने फैंस से की ऐसी अपील!

बॉलीवुड की बेबाक अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अब चीन पर निशाना साधते हुए अपने प्रशंसकों से यहां के बने उत्पादों का इस्तेमाल न करने की अपील की है.

Entertainment News: Kangana Ranaut ने चीनी ऐप बैन होने पर अपने फैंस से की ऐसी अपील!
फोटो साभार: इंस्टाग्राम

नई दिल्ली: बॉलीवुड की बेबाक अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अब चीन पर निशाना साधते हुए अपने प्रशंसकों से यहां के बने उत्पादों का इस्तेमाल न करने की अपील की है. भारत सरकार द्वारा चीनी ऐप को ब्लॉक किए जाने के अंतरिम आदेश पर कंगना ने अपनी यह बात रखी है.

कंगना कहती हैं, "सरकार ने चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिए हैं और मुझे लगता है कि ज्यादातर लोग इसका जश्न मना रहे हैं क्योंकि चीन कैसा है यह हम सभी जानते हैं. यह एक साम्यवादी देश है और जिस तरह से यह हमारी अर्थव्यवस्था और हमारी प्रणाली में गहराई से उतर गए हैं..यह डेटा डरा देने वाला है, किस कदर हमारे व्यवसाय चीन पर निर्भर हो गए हैं और इस साल कोरोना को फैलाने के साथ यह हाल के समय में दुनिया को सबसे मुश्किल घड़ी में डाल दिया है. इस प्रतिकूलता के बीच अब वे लद्दाख में हमारी सीमाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं और वे सिर्फ लद्दाख नहीं चाहते हैं, बल्कि वे अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम भी चाहते हैं. वे असम भी चाहते हैं और यह कभी खत्म नहीं होने वाला है."

वह आगे कहती हैं, "आप इन लोगों की लालच को देख सकते हैं और बेशक दुनिया भी इनके तौर-तरीकों को देखकर हैरान है और वैसे ये जानवरों के साथ भी बहुत बुरा बर्ताव करते हैं. अगर आप मूर्ति पूजन करते हैं या किसी अन्य धर्म का पालन करते हैं, तो ये आप पर वार भी करते हैं. मैं कहती हूं कि इस तरह से चरमपंथी होना या कम्युनिस्ट होना दोनों अतिवादी है. आप क्यों यह मानना चाहते हैं कि कोई भगवान है या नहीं है? आप इतना सुनिश्चित क्यों होना चाहते हैं? आप यूं ही क्यों नहीं रह सकते. मैं उनके तौर-तरीकों से सहमत नहीं हूं."

कंगना और भी कई बातों का जिक्र करने के साथ आखिर में कहती हैं, "मुझे लगता है कि हमें इस वक्त का लाभ उठाना चाहिए जब चीन को पूरी दुनिया से नफरत मिल रही है. हमें अपने कार्यभार संभालने चाहिए और हमें स्थानीय उत्पादों को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए और हमारे लोगों जो कर रहे हैं उसकी गुणवत्ता को समझना चाहिए. बेशक चीन आपको सबकुछ सस्ता और घटिया दे सकता है, लेकिन हमें उनका इस्तेमाल नहीं करना है. हमने सस्ते और घटिया के परिणामों को देखा है. हमें अपने लोगों को प्रेरित करने की आवश्यकता है और मुझे लगता है कि यही सही समय है."

ये भी देखें,,,,

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें