कुंडली भाग्य, 10 सितंबर, फुल एपिसोड: प्रीता ने करण और ऋषभ के पक्ष में दिया बयान

शर्लिन ने करीना बुआ को गुमराह करने के लिए बोला की वह मोनीशा को अपना केस वापस लेने के लिए रिक्वेस्ट कर रही थी. इसलिए उसने मोनीशा को गले से लगाया था.

कुंडली भाग्य, 10 सितंबर, फुल एपिसोड: प्रीता ने करण और ऋषभ के पक्ष में दिया बयान
प्रीता के सच बोलने पर सरला मां ने लगाया गले(फोटो साभार : वीडियो ग्रैब/Zee5)

नई दिल्ली: जी टीवी के लोकप्रिय धारावाहिक 'कुंडली भाग्य' में सोमवार के एपिसोड में करीना बुआ बार-बार शर्लिन से मोनीशा को गले लगाने के बारे में पूछती है. तभी पृथ्वी की नजर करीना बुआ पर जाती है जहां वह शर्लिन को डांट कर इस बारे में पूछ रही होती है. यह सुनने के बाद पृथ्वी, शर्लिन को इशारा करता है और वह इशारा भी करीना देख लेती है. वह पृथ्वी को बुलाकर इशारा करने के बारे में पूछती है, तब पृथ्वी बातों को बदलते हुए कोर्ट की हीयरिंग शुरू होने की बात बोलता है. यह सुनकर करीना पृथ्वी को अंदर जाने के लिए बोलकर भेज देती है और फिर से शर्लिन से सच बोलने के लिए कहती है. 

शर्लिन बातों को बदलते हुए, करीना बुआ को कहती है कि हां मैंने मोनीशा को गले लगाया है क्योंकि मैं चाहती थी कि वह अहना केस वापस ले ले, मगर ऐसा नहीं हुआ. उसने केस वापस लेने से मना कर दिया और मेरे ऑफर को भी ठुकरा दिया. शर्लिन की बातें सुनकर करीना शर्लिन को माफ करके गले से लगा लेती है. कोर्ट की हीयरिंग शुरू होने पर जज, करण और ऋषभ को सजा सुना रहे होते हैं कि तभी प्रीता आकर जज को सजा सुनाने से रोक लेती है और करण पर लगे आरोपों की चश्मदीद गवाह होने की बात बताती है.

जिसे सुनने के बाद जज, प्रीता को कटघरे में आकर सारी सच्चाई बोलने के लिए कहता है. प्रीता ने जब करण और ऋषभ की सच्चाई जज को बताई तो जज सब सुनने के बाद करण और ऋषभ को एक हफ्ते के लिए रिहा कर देती है और पूरी सच्चाई की तह तक जाने के लिए कहती है. यह सब सुनने के बाद करण की मां राखी, प्रीता के पास जाकर माफी मंगती है. वहीं सृष्टि डर के बाहर चली जाती है क्योंकि उसको लगाता की अब सरला मां गुस्से में आकर हम दोनों बहनों को घर से निकाल देगी. सरला के मना करने पर भी प्रीता सच बोलती है. इसी वजह से सरला, प्रीता को गले से लगाकर रोने लगती है.

यहां देखें पूरा एपिसोड- 

मनोरंजन व बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें