close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'रुस्तम' के लेखक को मिला कानूनी नोटिस, धार्मिक भावनाएं आहत करने का है आरोप!

'रुस्तम' फेम लेखक विपुल के.रावल को उनके निर्देशन में बनी पहली फिल्म 'टोनी' की रिलीज के पहले मुंबई के वकील हरिशचंद्र सोमेश्वर ने कानूनी नोटिस भेजा है. वकील का दावा है कि फिल्म के पोस्टर ने ईसाई समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है.

'रुस्तम' के लेखक को मिला कानूनी नोटिस, धार्मिक भावनाएं आहत करने का है आरोप!
फोटो साभार: Twitter@Tonythefilm

नई दिल्ली: 'रुस्तम' फेम लेखक विपुल के.रावल को उनके निर्देशन में बनी पहली फिल्म 'टोनी' की रिलीज के पहले मुंबई के वकील हरिशचंद्र सोमेश्वर ने कानूनी नोटिस भेजा है. वकील का दावा है कि फिल्म के पोस्टर ने ईसाई समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है.

पोस्टर में पवित्र क्रॉस की तस्वीर को दिखाया गया है, जिसमें एक कटा हुआ हाथ जंजीर से बंधा हुआ है. नोटिस में कहा गया है कि निर्माताओं ने इस छवि का इस्तेमाल अनैतिक रूप से किया है और कैथोलिक समुदाय की भावना को आहत किया है.

नोटिस मिलने की बात पर रावल ने कहा, "मेरी फिल्म एक कैथोलिक सीरियल किलर पर आधारित है. मैंने पोस्टर में पवित्र क्रॉस चिह्न् का इस्तेमाल किया है, क्योंकि यह मेरी फिल्म से संबंधित है."

उन्होंने आगे कहा, "मैं किसी भी धार्मिक भावना को आहत नहीं कर रहा हूं, यह बस लोगों के देखने का नजरिया है. मैं पोस्टर को नहीं बदलने वाला हूं. अगर लोगों को शिकायत है तो हम उस पर बात कर सकते हैं."

'टॉनी' मनोविज्ञान के चार छात्रों की कहानी है, जो चर्च के कन्फेशन बॉक्स (जहां लोग ईश्वर के सामने अपना गुनाह कबूल करते हैं) में एक कैमरा लगा देते हैं और तब जाकर उन्हें सीरियल किलर टॉनी का पता चलता है जो पादरी के सामने हत्या करने के जुर्म को कबूल करता है. उनकी चारों की जिंदगी में उस वक्त एक मोड़ आता है जब उनकी मुलाकात टॉनी से होती है और वे टॉनी के इस सफर का हिस्सा बन जाते हैं. यह फिल्म 29 नवंबर को रिलीज होगी.

बॉलीवुड की और भी खबरें यहां पढ़ें