जिंदगी जीने का दूसरा मौका मिलने पर मनीषा कोइराला ने किया इमोशनल पोस्ट

मनीषा ने कैंसर को मात देने के बाद कहा था कि मौत एक सच्चाई है, जो आया है उसे जाना ही पड़ता है, लेकिन कैंसर होना मौत का ऐलान नहीं है. हिम्मत रखिए, अपनी तरफ से कोशिश जरूर कीजिए.

जिंदगी जीने का दूसरा मौका मिलने पर मनीषा कोइराला ने किया इमोशनल पोस्ट
फोटो साभार : मनीषा कोइराला के ट्विटर से

नई दिल्ली : बॉलीवुड एक्ट्रेस मनीषा कोइराला (Manisha Koirala) को 2012 में पता चला कि उन्हें कैंसर है. मनीषा ने एक तस्वीर शेयर की है, जिसमें वह कैंसर से उभर रही थीं. मनीषा ने दो तस्वीरों का कोलाज ट्वीटर पर शेयर किया और लिखा कि जीवन जीने के लिए दूसरा मौका मिला, मैं हमेशा आभारी रहूंगी. गुड मॉर्निंग फ्रेंड्स, ये खूबसूरत जिंदगी है और ये खुशी और स्वस्थ तरीके से जीने का मौका भी है. इसकी एक तस्वीर में मनीषा अस्पताल के बेड पर लेटी हुई हैं और ऑक्सीजन की पाइप उनकी नाक में है, वहीं दूसरी तस्वीर में बर्फ से ढके पहाड़ों पर दिखाई दे रही हैं.

कैंसर से रिकवरी के बाद मनीषा कोइराला ने बॉलीवुड ब्लॉकबस्टर 'संजू' से वापसी की. इसके साथ ही वह 'लस्ट स्टोरीज', 'डियर माया' और संजय दत्त की 'प्रस्थानम' में दिखाई दीं. मनीषा ने कैंसर के खिलाफ अपनी लड़ाई पर किताब Healed: How Cancer Gave Me A New Life भी लिखी है. इसमें मनीषा ने अमेरिका में अपने इलाज और इस बीमारी से लड़ने के अपने एक्सपीरियंस को शेयर किया है.

इससे पहले मनीषा ने कहा था कि कैंसर मेरी जिंदगी में तोहफे की तरह है. इसने मेरी दृष्टि को तेज, दिमाग को साफ और मेरे दृष्टिकोण को वास्तविकता के करीब किया. मैं शांत हो गई हूं. 

मनीषा कोइराला ने कैंसर के खिलाफ छेड़ी जंग, सुनाई इलाज के दौरान की आप बीती

गौरतलब है कि मनीषा कोइराला ने 90 के दशक में बॉलीवुड पर राज किया. सभी बड़े स्टार्स के साथ मनीषा ने फिल्में कीं. 'सौदागर', 'दिल से', 'बॉम्बे', 'मन', 'खामोशी', 'अकेले हम अकेले तुम', 'लव स्टोरी' और 'कच्चे धागे' जैसी फिल्मों में काम किया है. इसी स्टारडम के बीच उन्हें पता चला कि उन्हें कैंसर है तो उनकी चकाचौंध से भरी जिंदगी में एक बारगी तो अंधेरा हो गया था. मनीषा ने कैंसर को मात देने के बाद कहा था कि मौत एक सच्चाई है, जो आया है उसे जाना ही पड़ता है, लेकिन कैंसर होना मौत का ऐलान नहीं है. हिम्मत रखिए अपनी तरफ से कोशिश जरूर कीजिए.

ये वीडियो भी देखें: