VIDEO: क्या दीपिका, क्या प्रियंका, इस एक्ट्रेस के संघर्ष की कहानी जानकर आप भी करेंगे 'सैल्यूट'

अगर आप मुंबई में रह रहे हैं तो हो सकता है कि आप यहां की सड़कों पर उससे मिल चुके होंगे, लेकिन आपने उसे पहचाना नहीं होगा. इस एक्ट्रेस की कहानी जानकर बॉलीवुड तो क्या हॉलीवुड की स्टार हीरोइनें भी कहने में गुरेज नहीं करेंगी- 'ये हैं असली स्टार.'

VIDEO: क्या दीपिका, क्या प्रियंका, इस एक्ट्रेस के संघर्ष की कहानी जानकर आप भी करेंगे 'सैल्यूट'
एक्ट्रेस लक्ष्मी कई सीरियल और कई फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं.

नई दिल्ली: यूं तो आप हर रोज दीपिका पादुकोण, प्रियंका चोपड़ा जैसी एक्ट्रेस से जुड़ी खबरें पढ़ते और सुनते हैं, लेकिन आज आपको एक ऐसी एक्ट्रेस की कहानी बता रहे हैं जो बिल्कुल आम है. वह स्टार तो है, लेकिन हमारे और आपकी ही तरह जिंदगी जीती है. अगर आप मुंबई में रह रहे हैं तो हो सकता है कि आप यहां की सड़कों पर उससे मिल चुके होंगे, लेकिन आपने उसे पहचाना नहीं होगा. इस एक्ट्रेस की कहानी जानकर बॉलीवुड तो क्या हॉलीवुड की स्टार हीरोइनें भी कहने में गुरेज नहीं करेंगी- 'ये हैं असली स्टार.'

यहां एक्टिंग दिखा चुकी हैं लक्ष्मी
इस एक्ट्रेस का नाम है लक्ष्मी निवृत्ती पंधे, जो मुंबई की सड़कों पर ऑटो चलाकर अपना गुजारा करती है. लक्ष्मी ना केवल सीरियल बल्कि फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं. उन्होंने 'देवयानी', 'लक्ष्य', 'तू मज़ा संगति' सहित कई और मराठी सीरियलों में रोल निभाए हैं. इतना ही नहीं लक्ष्मी ने मराठी फिल्म 'मुंबई पुणे मुंबई' और हिंदी फिल्म 'मराठवाड़ा' में भी काम कर चुकी हैं. इसके अलावा इस एक्ट्रेस की एक्टिंग ZEE5 की वेबसीरिज 'स्वराज्य रक्षक' में भी दिख चुकी है.

परिवार का भरण-पोषण करने के लिए चलाती हैं ऑटो
लक्ष्मी निवृत्ती पंधे के परिवार में तीन बहनें हैं. इन सभी के पालन-पोषण की जिम्मेदारी लक्ष्मी ही निभाती हैं. परिवार के पास कोई पुश्तैनी जायदाद या कारोबार नहीं है. इसलिए लक्ष्मी मुंबई की सड़कों पर ऑटो चलाती हैं. मुंबई के मुलुंड इलाके में रहने वाली लक्ष्मी हर रोज करीब नौ से 10 घंटे ऑटो चलाती हैं, ताकि उनका और उनकी तीन और बहनों का खर्च आसानी से चल जाए. मां और एक बहन बीमार है और पिता की असामयिक मौत हो चुकी है.

'एक्टिंग तो किसी के अंदर भी जिंदा रह सकती है'
लक्ष्मी ने बताया कि बचपन से ही फिल्मी दुनिया उसे आकर्षित करती थीं. जब वह छोटी थी और कभी माधुरी दीक्षित का गाना उसके कानों में पहुंचता तो उसके पैर थिरकने लगते थे. जब उसे होश हुआ कि गरीबी के चलते वह मॉडलिंग का खर्च नहीं जुटा पाएगी तो भी उसने अपने अंदर की एक्टिंग को मरने नहीं दिया. लक्ष्मी एक्टिंग के लिए लगातार ऑडिशन देती रहती है, लेकिन साथ में ऑटो भी चलाती है. वह कहती है कि एक्टिंग उसका शौक है जबकि ऑटो चलाना उसका पेशा है.

लक्ष्मी के ऑटो पर बैठे थे बोमन ईरानी
लक्ष्मी मीडिया में उस वक्त सुर्खियों में आई थीं जब अभिनेता बोमन ईरानी ने उनका एक वीडियो इंस्टाग्राम पर शेयर किया था. बोमन ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा था, 'लक्ष्मी मराठी सीरियल्स में अभिनय करती हैं और बाकी के समय ऑटो चलाकर अपने परिवार के पालन-पोषण के लिए सशक्त भूमिका निभा रही हैं.'

बीबीसी हिन्दी के साथ बातचीत में लक्ष्मी कहती हैं, 'मैं पहले से बोमन ईरानी सर को जानती थी. हुआ यूं कि जहां मैं शूटिंग कर रही थी वहीं उस दिन बोमन सर भी मुंबई के फिल्मसिटी स्टूडियो से अपनी किसी फ़िल्म की शूटिंग कर घर लौट रहे थे.'

वे बताती हैं, 'मैं भी अपनी कुछ को-स्टार्स के रूप में काम करने वाली लड़कियों के साथ घर जा रही थीं. वहीं अचानक बोमन ईरानी से मुलाकात हुई. बोमन सर के बारे में सुना था कि बहुत अच्छे आदमी हैं. उस दिन देख भी लिया.'

'मैंने देखा बोमन सर अपनी कार से हमारा वीडियो ले रहे थे. वह अपनी बीएमडब्ल्यू से नीचे उतरे और मेरे पास आए और बोले चलो एक राउंड लगाते हैं. मैं उन्हें देखकर बहुत खुश हो गई और उनके पैर छूने लगी तो बोमन सर ने कहा कि मेरे पैर मत छूओ.'

वो बताती हैं, 'बोमन सर मुझे छोटा नहीं दिखाना चाहते थे. इसलिए उन्होंने ऐसा किया. उन्होंने मेरे साथ फोटो ली और खुश होकर मेरी तारीफ करते गए. मुझे तो विश्वास नहीं हो रहा था कि वह मेरे साथ थे.'

इस वजह से चुना ऑटो चलाना
लक्ष्मी ने बताया कि मां दूसरे के घरों में काम करती थी, उसी से परिवार चलता था. जब बहनें बड़ी हो गईं तो मां की कमाई से घर चलाना मुश्किल हो रहा था. लक्ष्मी ने बताया कि जब वह आठवीं में थी तभी पढ़ाई छोड़ दी. पहले तो दूसरे घरों में काम किया, कुछ दिन पार्लर और दुकानों में भी काम किया. लक्ष्मी ने बताया कि ड्यूटी करने के चलते वह ऑडिशन देने नहीं जा पाती थी. साथ ही मुंबई के अलग-अलग हिस्सों में ऑडिशन होने के चलते आने-जानें में भी काफी खर्च हो जाता था. इसलिए ऑटो का लाइसेंस लिया और इसे ही अपना रोजगार बना लिया. ऑटो चलाना अपना काम है, इसलिए वह एक्टिंग के लिए समय निकाल पाती हैं.

लक्ष्मी का कहना है कि फिलहाल उसे छोटे रोल मिलते हैं. उसमें भी ज्यादातर गरीब या पागल के किरदार मिलते हैं, लेकिन वह खुश है. उसका मानना है कि उसका काम एक्टिंग करना है, जो वह करने की कोशिश कर रही है. अगर जीवन में कभी सही वक्त आया तो हो सकता है कि कभी लीड रोल भी मिलेगा.