'पद्मावत': स्वरा भास्कर के ओपन लैटर पर 'रामलीला' के को-राइटर ने दिया करारा जवाब

स्वरा ने अपने लैटर में भंसाली द्वारा फिल्म में दिखाए गए जौहर और सती को लेकर अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि हम 21वीं सदी की महिलाएं हैं और यहां महिलाओं को जीने का हक है. 

'पद्मावत': स्वरा भास्कर के ओपन लैटर पर 'रामलीला' के को-राइटर ने दिया करारा जवाब
स्वरा भास्कर को रामलीला के को-राइटर ने दिया करारा जवाब.

नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' यूं तो काफी वक्त से विरोध का सामना कर रही है लेकिन हाल ही में बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने फिल्म देखने के बाद भंसाली को एक खुला खत लिखा था, जिसकी वजह से वह सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल हुईं और अब 'गोलियों की रासलीला: रामलीला' के को- राइटर ने भी एक ओपन लैटर लिखते हुए स्वरा भास्कर को करारा जवाब दिया है. 

दरअसल, स्वरा ने अपने लैटर में भंसाली द्वारा फिल्म में दिखाए गए जौहर और सती को लेकर अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि हम 21वीं सदी की महिलाएं हैं और यहां महिलाओं को जीने का हक है. फिल्म में जौहर को काफी महिमांडन करके दिखाया गया है और स्वरा ने इस पर अपने विचार रखे थे. हालांकि, स्वरा को जवाब देते हुए रामलीला के को-राइटर ने लिखा, सबसे पहले आपको फेमिनिजम की परिभाषा को समझना चाहिए. 

उन्होंने लिखा, कई एक्टर्स, फिल्ममेकर और कलाकारों को लगता है कि वो सिनेमा में फेमिनिजम की नई परिभाषा देते हुए लोगों को रास्ता दिखाएंगे. ऐसे में उनके लिए यह समझना जरूरी है कि यादगार सच और झूठ में फर्क होता है. फिल्म के दृश्यो में दिखाया जाता है कि एक महिला पति/प्रेमी से धोखा खाने के बाद हाथ में शराब लेकर पुराने गाने सुनते हुए गलियों भटकती है. यह बिलकुल ऐसा जैसा पुरूष प्यार में धोखा खाने के बाद करते हैं. तो क्या ऐसा करने से महिलाएं समान हो जाती हैं. 

इसके बाद उन्होंने स्वरा को सती और जौहर में भी अंतर बताते हुए लिखा, 13वीं सदी और वर्तमान की तुलना कैसे की जा सकती है? उन्होंने लिखा, पहले महिलाएं रेप होने के बजाए मौत को चुनती थी. इस इतिहास को हम सब जानते हैं और अगर इसके बाद भी आपको कोई परेशानी है तो आप ऐतिहासिक फिल्में देखना बंद कर दें. तथ्यों पर आधारित सबसे बड़ी बात यह है कि सती प्रथा एक ऐसी प्रथा थी जिसमें ज्यादातर महिलाओं को उनके पति की मृत्यू के बाद जबरदस्ती चिता के हवाले करने को कहा जाता था. वहीं जौहर एक ऐसी प्रथा है जिसमें कोई भी महिला अपनी मर्जी से खुद को अग्नी के हवाले करती है. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें