छत्रपति शिवाजी महाराज पर पायल रोहतगी के ट्वीट पर विवाद, मांगनी पड़ी माफी

पायल ने अपने वीडियो में कहा, 'माफ़ी मांगती हूं, मराठी लोगों से मुझे जानकारी लेने का भी हक़ नहीं है भारत में" 

छत्रपति शिवाजी महाराज पर पायल रोहतगी के ट्वीट पर विवाद, मांगनी पड़ी माफी
रोहतगी ने कहा कि मैंने मराठा राजा को नीचा दिखाने के लिए सवाल नहीं पूछा था.

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी छत्रपति शिवाजी महाराज की 'जाति' पर ट्वीट करके विवादों में घिर गईं. हालांकि, विवाद बढ़ने के बाद पायल ने सोमवार को वीडियो साझा करके इस पर माफी मांगी. पायल ने अपने वीडियो में कहा, 'माफ़ी मांगती हूं, मराठी लोगों से मुझे जानकारी लेने का भी हक़ नहीं है भारत में" 

पायल ने रविवार को किए अपने ट्वीट में लिखा, "छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्म शूद्र वर्ण में किसान परिवार में हुआ था और यज्ञोपवित संस्कार और अपनी पत्नी के साथ पुनर्विवाह द्वारा उन्हें एक क्षत्रिय बनाया गया ताकि उनका राज्याभिषेक किया जा सके. इसलिए लोग एक वर्ण से दूसरे वर्ण में अपनी योग्यता के बल पर जा सकते हैं. कोई जातिवाद नहीं? 

 

ट्वीट पर आलोचनाओं का सामना का सामना करने के बाद उन्होंने सोमवार को एक वीडियो डालकर अपनी टिप्पणी पर माफ मांगी. वीडियो में पायल ने कहा, "मेरे सीधे से प्रश्न को गलत समझा गया है. यहां तक कि मैं, निश्चित रूप से एक महान राजा की पूजा करती हूं. मैंने कुछ पढ़ा था और एक जानकारी सामने आई, जिसे मैंने सबके सामने रखा था. लेकिन सोशल मीडिया पूरी तरह से ट्रोल से भरा पड़ा है." 

रोहतगी ने कहा कि मैंने मराठा राजा को नीचा दिखाने के लिए सवाल नहीं पूछा था. उन्होंने कहा, "मैं उन सभी से हाथ जोड़कर माफी मांगती हूं जो सोचते हैं कि मैंने उनके महाराज के बारे में गलत कहा है... यह स्पष्ट है कि मुझे एक सवाल पूछने का भी अधिकार नहीं है क्योंकि इसे गलत अर्थ में लिया जाएगा."