close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PICS: 16 घंटे तक कुछ नहीं खाते हैं राम कपूर, वेट लूज करने के लिए किया ये भी

कभी 130 किलो के रहे राम कपूर की तस्वीरें आज लोग पहचान नहीं पा रहे हैं, क्योंकि उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से अपना वेट काफी लूज कर लिया है. उनका गजब का ट्रांसफॉर्मेंशन सामने आया है.

PICS: 16 घंटे तक कुछ नहीं खाते हैं राम कपूर, वेट लूज करने के लिए किया ये भी
यही वजह थी कि राम कपूर पिछले कई दिनों से लाइमलाइट से दूर थे (फोटो साभारः इंस्टाग्राम, राम कपूर)

नई दिल्ली: टीवी जगत के मशहूर अभिनेताओं में से एक राम कपूर की तस्वीरें इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. वजह है, उनका ट्रांसफॉर्मेंशन. जी हां, कभी 130 किलो के रहे राम कपूर की तस्वीरें आज लोग पहचान नहीं पा रहे हैं, क्योंकि उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से अपना वेट काफी लूज कर लिया है. उनका गजब का ट्रांसफॉर्मेंशन सामने आया है. राम कपूर अब पहले से बहुत ज्यादा फिट नजर आ रहे हैं और यही वजह रही कि टीवी से लेकर बॉलीवुड तक अपनी एक्टिंग से सबका दिल जीतने वाले राम कपूर पिछले कई दिनों से लाइमलाइट से दूर थे. 

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Ram Kapoor (@iamramkapoor) on

मुंबई मिरर में प्रकाशित एक खबर के अनुसार राम कपूर ने अपने वजन घटाने की यात्रा पर बातचीत करते हुए कहा, 'जब मैंने शुरुआत की थी तब मैं 130 किलोग्राम का था और मैं 25 से 30 किलो वजन कम करना चाहता था. मैंने फैसला किया कि अगर मुझे अपना लक्ष्य प्राप्त करना है तो, मुझे अपने काम से समय निकालना होगा. इसके लिए पर्याप्त समय होना चाहिए- छह महीने से एक वर्ष तक का.' उन्होंने बताया, 'सुबह उठते ही मैं खाली पेट एक घंटे का वेट-लिफ्टिंग करता हूं और रात को सोने से ठीक पहले, मैं कार्डियो करता हूं. 8 घंटे की अवधि में मैं सीमित भोजन करता हूं. बाकी 16 घंटों, मैं कुछ भी नहीं खाता. मैंने डेयरी, तेल, अधिकांश कार्ब्स और चीनी का त्याग किया है. जैसा कि मुझे पता है मैंने सामान्य भोजन छोड़ दिया है.'

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Ram Kapoor (@iamramkapoor) on

बता दें, राम कपूर का जन्म 1 सितम्बर 1973 को दिल्ली में एक संपन्न पंजाबी खत्री परिवार में हुआ था. राम कपूर ने नैनीताल, उत्तराखंड के शेरवुड कॉलेज से अपनी स्कूलिंग की है. बालक राम पर अंग्रेजी भाषा का कुछ ऐसा असर रहा कि वह शुरू से ही बॉलीवुड से ज्यादा हॉलीवुड फिल्में देखा करते थे. कपूर जब नौवीं कक्षा में थे, तब पहली बार वह एक स्टेज प्ले का हिस्सा बनें, जिसमें उन्होंने लीड रोल किया. प्ले का नाम था- 'Charley's Aunt '. यहीं से उनके भीतर एक्टिंग करने को लेकर लालसा जगी. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें