सरोगेसी पर खुलकर बोले शाहरूख खान

बॉलीवुड एक्टर शाहरूख खान ने कहा कि सरोगेसी को व्यावसायिक कर दिया जाना चाहिए। लेकिन सरोगेसी के मसले पर अभी कुछ किया जाना बाकी है। उन्होंने कहा कि इससे जुड़े कई ऐसी चीजें है जिनके बारे में लोगों को कम जानकारी है। इसके गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए सरोगेसी को रेग्यूलेट किए जाने की जरूरत है। कई देशों में सरोगेसी की प्रक्रिया एक तयशुदा पद्धति के तहत निर्धारित है। लेकिन भारत में ऐसा नहीं है।  

सरोगेसी पर खुलकर बोले शाहरूख खान

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर शाहरूख खान ने कहा कि सरोगेसी को व्यावसायिक कर दिया जाना चाहिए। लेकिन सरोगेसी के मसले पर अभी कुछ किया जाना बाकी है। उन्होंने कहा कि इससे जुड़े कई ऐसी चीजें है जिनके बारे में लोगों को कम जानकारी है। इसके गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए सरोगेसी को रेग्यूलेट किए जाने की जरूरत है। कई देशों में सरोगेसी की प्रक्रिया एक तयशुदा पद्धति के तहत निर्धारित है। लेकिन भारत में ऐसा नहीं है।  

शाहरूख ने इस मसले पर कहा कि सरोगेसी को भारत में नियमित किए जाने की जरूरत है। जब सरोगेजी के जरिए अबराम का जन्म हुआ तो इसके नियमों को लेकर मुझे ज्यादा जानकारी नहीं थी। मैने अपने देश में सरोगेसी के नियम-कानूनों के बारे में ज्यादा नहीं पढ़ा था। लेकिन मैंने यह महसूस किया कि कई देशों में इसे लेकर तयशुदा कानून है और उसकी एक निर्धारित प्रक्रिया है। गौरी (शाहरूख की पत्नी) चाहती थी कि बच्चा सरोगेसी के जरिए हो। गौर हो कि शाहरूख और गौरी को मई 2013 में तीसरा बच्चा हुआ था। उस बच्चे का नाम शाहरूख और गौरी ने अबराम रखा। शाहरूख के दो बच्चे आर्यन और सुहाना भी है।