शाहरुख खान बोले- सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन एक हादसे ने दुख पहुंचाया

अभिनेता शाहरुख खान इन दिनों अपनी फिल्म ‘रईस’ के प्रचार में जोर शोर से जुटे हैं। हालांकि, मंगलवार को फिल्म ‘रईस’ के ट्रेन से प्रचार के दौरान वडोदरा रेलवे स्‍टेशन पर अफरा-तफरी मचने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। बताया जाता है कि इस दौरान स्टेशन पर करीब 15,000 लोगों की भीड़ जुटी थी और तभी एक व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ा। वहीं, अभिनेता ने अफरा-तफरी में वडोदरा के 45 वर्षीय नेता फरीद खान पठान की मौत को ‘अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण’ बताया।

शाहरुख खान बोले- सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन एक हादसे ने दुख पहुंचाया

नई दिल्‍ली : अभिनेता शाहरुख खान इन दिनों अपनी फिल्म ‘रईस’ के प्रचार में जोर शोर से जुटे हैं। हालांकि, मंगलवार को फिल्म ‘रईस’ के ट्रेन से प्रचार के दौरान वडोदरा रेलवे स्‍टेशन पर अफरा-तफरी मचने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। बताया जाता है कि इस दौरान स्टेशन पर करीब 15,000 लोगों की भीड़ जुटी थी और तभी एक व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ा। वहीं, अभिनेता ने अफरा-तफरी में वडोदरा के 45 वर्षीय नेता फरीद खान पठान की मौत को ‘अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण’ बताया।

शाहरुख ने बुधवार को ज़ी रीजनल चैनल्‍स के सीईओ जगदीश चंद्रा के साथ खास बातचीत की। इस दौरान शाहरुख खान ने कहा कि सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन एक हादसे ने बहुत दुख पहुंचाया। वडोदरा में फरीद खान की मौत पर शाहरुख ने दुख व्‍यक्‍त करते हुए कहा कि मेरी संवेदनाएं फरीद खान के परिवार के साथ है।

बता दें कि सोमवार रात शाहरुख मुंबई-दिल्ली अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन से वडोदरा पहुंचे थे और वहां जमा हुई करीब 15,000 लोगों की भीड़ उनकी एक झलक पाने के लिए बेकाबू हो गई इस दौरान फरीद को दिल का दौरा पड़ा और बाद में उनकी मौत हो गई। शाहरूख ‘रईस बाई रेल’ प्रचार अभियान के तहत मुंबई सेंट्रल से ट्रेन में सवार हुए थे। हालांकि, बातचीत के दौरान शाहरुख खान ने यह भी कहा कि ट्रेन से प्रोमोशन का ये आइडिया मार्केटिंग टीम का है और बड़प्‍पन अपनी गलती मानने में है।

इससे पहले, शाहरुख ने दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर संवाददाताओं से कहा कि हमारी एक सहयोगी हमारे साथ यात्रा कर रही थीं। उनके एक करीबी वडोदरा में उनसे मिलने आये। उन्हें दिल का दौरा पड़ा। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। हमने यह सोचकर यात्रा शुरू की थी कि सब एक साथ जाएंगे, एक-दूसरे के साथ समय गुजारेंगे लेकिन जब हमारी एक सहयोगी ने ऐसी यात्रा के दौरान अपने एक करीबी को खो दिया तो हम सब दुखी हो गये। शाहरूख ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति की ओर से तथा हम सभी की संवेदनाएं पीड़ित परिवार के साथ हैं। वह (सहयोगी) वहां पहुंच गई हैं। मैंने उनसे बात की। वहां परिवार के सदस्यों के साथ हमारे कुछ लोग हैं। (एजेंसी इनपुट के साथ)