close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारतीय सिनेमा के जनक दादा साहब फाल्के को भारत रत्न देने की उठी मांग

लोकसभा में शून्यकाल के दौरान राउत ने कहा कि दादा साहब फाल्के ने भारत में सिनेमा की बुनियाद रखी और उनको फिल्म जगत का पितामह कहा जाता है.

भारतीय सिनेमा के जनक दादा साहब फाल्के को भारत रत्न देने की उठी मांग
दादा साहब फाल्‍के (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: शिवसेना के सांसद विनायक राउत ने भारतीय सिनेमा के जनक कहे जाने वाले दादा साहब फाल्के को देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न (मरणोपरांत) दिए जाने की मांग की. लोकसभा में शून्यकाल के दौरान राउत ने कहा कि दादा साहब फाल्के ने भारत में सिनेमा की बुनियाद रखी और उनको फिल्म जगत का पितामह कहा जाता है. आज फिल्म उद्योग के माध्यम से लाखों लोगों की जीविका चल रही है तो इसका श्रेय दादा साहब को जाता है. उन्होंने कहा कि दादा साहब फाल्के को उचित सम्मान मिलना चाहिए. सरकार से आग्रह है कि वह उनको भारत रत्न से सम्मानित करे.

कांग्रेस द्वारा दिया गया विशेषाधिकार हनन का नोटिस विचाराधीन
इस बीच लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि राफेल विमान सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के खिलाफ मिले विशेषाधिकार हनन के अलग-अलग नोटिस विचारधीन हैं. ये नोटिस सदन में अविश्‍वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान 20 जुलाई को राफेल सौदे के मुद्दे पर सदन को कथित तौर पर गुमराह करने को लेकर कांग्रेस द्वारा दिया गया है. लोकसभा अध्यक्ष ने इस मुद्दे पर कहा कि यहां के पांच लोगों ने अलग-अलग प्रधानमंत्री के खिलाफ और रक्षा मंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया है.

मेरठ के फोटोग्राफर ज्ञान दीक्षित को इस साल मिलेगा दादा साहेब फाल्के फिल्म फाउंडेशन अवार्ड

सुमित्रा महाजन ने शोर शराबे के बीच कहा, ''ये मेरे विचाराधीन हैं.'' इससे पहले सदन में कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने नियम 222 के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अलग-अलग विशेषाधिकार हनन नोटिस दिए जाने की बात की. वहीं, कांग्रेस सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री मोदी और रक्षा मंत्री (निर्मला सीतारमण) के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिये जाने की बात कही.

शाहिद कपूर ने इनके नाम किया दादा साहेब फाल्के एक्सिलेंस अवॉर्ड, कहा...

इस दौरान बीजेपी के कुछ सदस्य भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन के नोटिस पर कुछ कहना चाहते थे. संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि इन सदस्‍यों को भी बोलने दिया जाना चाहिए. भाजपा सदस्य अनुराग ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान गुमराह करने वाला बयान दिया था. इस संबंध में स्पीकर ने कहा कि एक व्यक्ति के खिलाफ चार नोटिस पेश किये गए हैं.

(इनपुट: एजेंसी)