close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मॉब लिंचिंग की घटनाओं को स्वरा भास्कर ने बताया 'महामारी', सेलेब्स की चिट्ठी का किया सपोर्ट

स्वरा भास्कर ने एक इवेंट के दौरान कहा कि मॉब लिंचिंग की इस तरह की घटनाएं देश के लिए महामारी बन गई हैं. वह तीन-चार वर्षों से इसी के खिलाफ अपनी आवाज उठाती आ रही हैं.

मॉब लिंचिंग की घटनाओं को स्वरा भास्कर ने बताया 'महामारी', सेलेब्स की चिट्ठी का किया सपोर्ट
स्वरा भास्कर (फोटो साभार- Instagram)

मुंबई: बॉलीवुड सेलेब्स की पीएम मोदी की लिखी गई चिट्ठी का मुद्दा अब और बढ़ता जा रहा है. 40 से ज्यादा कलाकारों की अर्जी पर सरकार की तरफ से भी जवाब जारी कर दिया गया है. बॉलीवुड से लेकर टॉलीवुड तक की कई बड़ी हस्तियों ने पीएम नरेंद्र मोदी से मांग की है कि वो देश में राम के नाम पर हो रहे क्राइम को रोकने के लिए कड़े कदम उठाएं. टीएमसी नेता बंगाली एक्ट्रेस नुसरत जहां के समर्थन के बाद अब एक्ट्रेस स्वरा भास्कर भी सेलेब्स के सपोर्ट में आ गई हैं. 

स्वरा भास्कर ने एक इवेंट के दौरान कहा कि मॉब लिंचिंग की इस तरह की घटनाएं देश के लिए महामारी बन गई हैं. वह तीन-चार वर्षों से इसी के खिलाफ अपनी आवाज उठाती आ रही हैं. स्वरा यह भी कहती हैं कि हमेशा से उन्होंने मानव सुरक्षा कानून की मांग की है. देश में धर्म संप्रदाय के नाम पर जिस तरह से वारदातें बढ़ी हैं, वह बिल्कुल गलत हैं. केंद्र सरकार को, राज्य सरकार को इन सभी घटनाओं के लिए अकाउंटेबल करना होगा. साथ ही उन्होंने कहा कि जिस तरह से आर्टिस्ट इन घटनाओं से संवेदनशील होकर इस तरह का पत्र प्रधानमंत्री के नाम लिख रहे हैं. यह सब के सामने हैं.

PM को लिखी चिट्ठी के सपोर्ट में आईं नुसरत जहां, ट्विटर पोस्ट पर बोलीं- 'इंसानियत के लिए लड़ेंगे'

बता दें कि बॉलीवुड के 40 से ज्यादा सेलेब्स ने बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी को देश में धर्म के नाम पर बढ़ रहे हिंसक अपराधों के बबात एक खुला खत लिखा था. इस लेटर के सामने आने के बाद से ही से मामला विवादित होता जा रहा है. सरकार ने इस तरह के तथ्यों से इंकार करते हुए बयान जारी कर दिया है. चिट्ठी लिखते हुए सेलेब्स ने पीएम नरेंद्र से कहा कि सिर्फ पार्लियामेंट में मॉब लिंचिंग की निंदा करने से काम नहीं चलेगा. इसके खिलाफ क्या एक्शन लिया जा रहा है? वो बताइए. सेलेब्स ने कहा कि हमें लगता है कि ऐसे किसी भी क्राइम की बेल नहीं होनी चाहिए और ऐसे लोगों को कड़ी से कड़ी सजा का प्रावधान होना चाहिए. ऐसी हत्या करने वालों को बना पैरोल के आजीवन करावास की सजा सुनाई जानी चाहिए. 

बॉलीवुड की और भी खबरें यहां पढ़ें