Bollywood की इन हीरोइनों को थी अपने सांवले रंग से प्रॉब्लम

शिल्पा शेट्टी का भी शुरुआती लुक एकदम अलग था. अपनी त्वचा का रंग बदलने के साथ-साथ उन्होंने अपनी नाक की भी सर्जरी करवाई.  

Bollywood की इन हीरोइनों को थी अपने सांवले रंग से प्रॉब्लम
फिल्म पोस्टर

नई दिल्ली: फिल्म इंडस्ट्री में कुछ सालों पहले तक हीरोइन बनने की पहली शर्त हुआ करती थी, गोरा रंग. रेखा ऐसी पहली हीरोइन थीं, जिसका रंग काफी गहरा था. अपनी शुरुआती फिल्मों में रेखा काफी सांवली नजर आई हैं. रेखा वो पहली एक्ट्रेस थीं, जो अपने स्किन केयर ट्रीटमेंट के लिए विदेश गईं और सर्जरी के बाद नियमित रूप से स्किन वाइटनिंग इंजेक्शन लेने लगीं.

अस्सी के दशक में पर्दे पर जो रेखा नजर आईं, वो एक खूबसूरत, बेहद आकर्षक और गजब की एक्ट्रेस रेखा थीं. रेखा के बाद इंडस्ट्री में कई नायिकाएं रही हैं, जिन्होंने अपने स्किन का कलर बदलने में जरा भी देर नहीं लगाई. काजोल का 'बाजीगर' में लुक याद कीजिए. सांवली सी बड़ी-बड़ी आंखों वाली लड़की, जो 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' आते-आते एकदम निखर गईं. दरअसल काजोल पहले स्किन वाइटनिंग इंजेक्शन लगाने के लिए तैयार नहीं थी. उन्हें अपनी त्वचा की रंगत से कोई शिकायत नहीं थी. लेकिन सांवले रंग की वजह से जब उनके हाथ से कई रोल खिसकने लगे, उन्होंने भी दूसरी हीरोइनों की राह पकड़ने में ज्यादा वक्त नहीं लगाया.

शिल्पा शेट्टी भी थी सांवली-सलोनी
शिल्पा शेट्टी का भी शुरुआती लुक एकदम अलग था. अपनी त्वचा का रंग बदलने के साथ-साथ उन्होंने अपनी नाक की भी सर्जरी करवाई. शिल्पा कर शुरू से मानना था कि ग्लैमर वर्ल्ड में हीरोइन को हमेशा सुंदर दिखना चाहिए. बंगाली बाला बिपाशा, मिस वर्ल्ड प्रियंका चोपड़ा ने भी इंडस्ट्री में कदम रखने के कुछ दिनों बाद ही रंग बदलने के लिए इंजेक्शन लेना शुरू कर दिया.

कहा तो यह भी जाता है कि साउथ से हिंदी फिल्मों में कदम रखने के बाद श्रीदेवी भी अमेरिका जाकर अपने फेस का ट्रीटमेंट लेकर आई थीं. उनकी नाक पहले मोटी हुआ करती थी, होंठ पतले थे. स्किन कलर भी इतना साफ नहीं था. स्किन कलर के बाद इंडस्ट्री में लिप ट्रीटमेंट का फैशन शुरू हुआ. अनुष्का, कंगना से लेकर लगभग हर ए लिस्टर हीरोइन ने अपना लिप ट्रीटमेंट करवा रखा है, जिससे उनके होंठ भरे-भरे और सेक्सी दिखते हैं.

सिर्फ हीरोइन ही नहीं चेहरे से झुर्रियां मिटाने के लिए और यंग दिखाने के लिए नियमित तौर पर हीरोज भी बोटोक्स का इंजेक्शन लगाते हैं. पहले एक्टर बोटोक्स ट्रीटमेंट के लिए विदेश जाते थे. पिछले कुछ सालों से हमारे देश में भी वर्ल्ड क्लास स्किन क्लीनिक आ गए हैं. इन सबके बीच में कई ऐसी एक्ट्रेस भी हैं, जिन्होंने किसी तरह का कोई ट्रीटमेंट नहीं लिया. कोंकणा सेन, राधिका आप्टे और फ्रीडा पिंटो ने कभी अपने सांवले पन से घबरा कर रंग बदलने की कोशिश नहीं की. फ्रीडा हॉलीवुड फिल्मों में एक जाना-माना नाम बन गई हैं.

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें