21 साल बाद भी अनसुलझा है फिल्म 'टाइटैनिक' का यह सवाल

अपने समय के इस सबसे बड़े जहाज के बारे में दावा किया गया था कि वह कभी डूब नहीं सकता.

21 साल बाद भी अनसुलझा है फिल्म 'टाइटैनिक' का यह सवाल
टाइटैनिक को डूबने में 3 घंटे का समय लगा था (फिल्म पोस्टर)

नई दिल्ली: फिल्म 'टाइटैनिक' में काल हॉकले का किरदार निभाने वाले अभिनेता बिली जेन का कहना है कि फिल्म में लियोनाडरे के किरदार जैक को हर कीमत पर मरना ही था. निर्देशक जेम्स कैमरून की 1997 की फिल्म 'टाइटैनिक' के कई बरसों बाद भी इस बात पर बहस होती है कि आखिर क्यों जैक को बर्फीले पानी में मरना पड़ा जबकि रोस (केट विंसलेट) पानी में लकड़ी के एक फट्टे पर सुरक्षित बच निकली. जेन ने 'पीपुल डॉट कॉम' को बताया, "आपके हीरो को मरना पड़ा. मुझे नहीं पता कि इसके अलावा और क्या हो सकता था." वह कहते हैं कि उनका (जैक) किरदार ही ऐसे गढ़ा गया था कि उसे मरना ही था.

इसे डूबने में 3 घंटे का समय लगा था
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अपने समय के इस सबसे बड़े जहाज के बारे में दावा किया गया था कि वह कभी डूब नहीं सकता. लेकिन बाद में हुआ ये कि शिप 15 अप्रेल 1912 को एक आइसबर्ग से टकराकर डूब गया था. इसे लेकर ऐसी भी बातें थी कि ये सिर्फ 15 मिनट में डूब गया था जो पूरी तरह गलत है. इसे डूबने में 3 घंटे का समय लगा था. कई सालों बाद जब अटलांटिक महासागर में खोज की गई तो ये भीमकाय जहाज समुद्र में 12 हजार फीट की गहराई में मिला. इसके अवशेषों को राबर्ट बेलार्ड ने खोजा था. सालों बाद इस शिप की दर्दनाक स्टोरी 1997 में आई टाइटैनिक मूवी में नजर आई.

टाइटैनिक दुर्घटना में मारे गए थे 1,517 लोग
रिपोर्ट्स के अनुसार आइसबर्ग जब नजर आया, उससे मात्र 30 सेकंड पहले दिख गया होता, तो जहाज की दिशा बदली जा सकती थी और तब शायद समुद्री इतिहास की यह भीषणतम दुर्घटना नहीं हुई होती. टाइटैनिक शिप में भाप निकलने के लिए 4 स्मोकस्टेक्स लगे हुए थे. ये टाइटैनिक की तस्वीरों का अभिन्न हिस्सा रहे हैं. लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि उनमें से एक स्मोकस्टेक महज डेकोरेटिव पीस था, वह काम नहीं करता था. उसे सजावट के लिए लगाया गया था. समुद्री इतिहास की सबसे भीषण टाइटैनिक दुर्घटना में 1,517 लोग मारे गए थे.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें

(इनपुट IANS से भी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.