रूसी सेना के कैडेट्स का यह VIDEO हुआ वायरल, एक साथ गाते दिखे 'ऐ वतन... ऐ वतन'

सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा यह वीडियो मास्को में एक इवेंट के दौरान बनाया गया है.

रूसी सेना के कैडेट्स का यह VIDEO हुआ वायरल, एक साथ गाते दिखे 'ऐ वतन... ऐ वतन'
'शहीद' भगत सिंह के जीवन पर बनी यह देशभक्ति की सर्वश्रेष्ठ फिल्म है. (फोटो साभारः वीडियो ग्रैब, ट्विटर)

नई दिल्ली: 1965 में बनी फिल्म 'शहीद (Shaheed)' का गाना 'ऐ वतन... ऐ वतन' आज भी जब हम सुनते हैं तो हमारे रोंगटे खड़े हो जाते हैं. देशभक्ति से लबरेज इस गाने को मोहम्मद रफी ने गाया था. अब इस गाने की गूंज देश के बाहर भी जा चुकी है. इस गाने में इतना ज्यादा जोश है कि अब इसे रूसी सेना के कैडेट्स ने गाया है. रूस में हुए एक कार्यक्रम के दौरान रूसी सेना के कैडेट्स का 'ऐ वतन... ऐ वतन' गाते हुए एक वीडियो तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. 

वायरल हो रहा वीडियो
सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा यह वीडियो मास्को में एक इवेंट के दौरान बनाया गया है. बता दें, 'शहीद' भगत सिंह के जीवन पर बनी यह देशभक्ति की सर्वश्रेष्ठ फिल्म है. जिसकी कहानी खुद भगत सिंह के साथी बटुकेश्वर दत्त ने लिखी थी. इस फिल्म में अमर शहीद राम प्रसाद 'बिस्मिल' के गीत थे. मनोज कुमार ने इस फिल्म में शहीद भगत सिंह का जीवंत अभिनय किया था. भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम पर आधारित यह अब तक की सर्वश्रेष्ठ प्रामाणिक फिल्म है.

13वें राष्ट्रीय फिल्म अवॉर्ड की सूची में इस फिल्म ने हिन्दी की सर्वश्रेष्ठ फिल्म के पुरस्कार के साथ-साथ राष्ट्रीय एकता पर बनी सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए नर्गिस दत्त पुरस्कार भी अपने नाम किया. बटुकेश्वर दत्त की कहानी पर आधारित सर्वश्रेष्ठ पटकथा लेखन के लिए दीनदयाल शर्मा को पुरस्कृत किया गया था. यह भी महज एक संयोग ही है कि जिस साल यह फिल्म रिलीज हुई थी, उसी साल बटुकेश्वर दत्त का निधन भी हो गया था.