close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विकास बहल को यौन उत्पीड़न मामले में मिली क्लीन चिट, फिर बनेंगे 'सुपर 30' के निर्देशक

निर्देशक पर अब बंद हो चुकी फैंटम फिल्म्स की एक पूर्व कर्मचारी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. 

विकास बहल को यौन उत्पीड़न मामले में मिली क्लीन चिट, फिर बनेंगे 'सुपर 30' के निर्देशक
रिलायंस एंटरटेनमेंट के समूह मुख्य कार्याधिकारी शिबाशीष सरकार ने कहा कि आंतरिक शिकायत समिति (आईसीसी) की रिपोर्ट में बहल को आरोपमुक्त कर दिया गया है.

मुंबई: फिल्म निर्माता विकास बहल को रिलायंस एंटरटेनमेंट द्वारा की गई आंतरिक जांच में यौन उत्पीड़न के मामले में क्लीन चिट मिल गई है. रिलायंस एंटरटेनमेंट उनकी अगली फिल्म ‘सुपर 30’ की निर्माता कंपनी है. ‘क्वीन’ के निर्देशक पर अब बंद हो चुकी फैंटम फिल्म्स की एक पूर्व कर्मचारी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. अनुराग कश्यप और विक्रमादित्य मोटवानी के साथ बहल इस फिल्म कंपनी के साझेदारों में से एक थे. रिलायंस एंटरटेनमेंट के समूह मुख्य कार्याधिकारी शिबाशीष सरकार ने कहा कि आंतरिक शिकायत समिति (आईसीसी) की रिपोर्ट में बहल को आरोपमुक्त कर दिया गया है.

शिबाशीष सरकार ने एक बयान में कहा, ‘‘हां यह सच है कि आईसीसी समिति की रिपोर्ट में विकास को आरोपमुक्त कर दिया गया है. आईसीसी द्वारा विकास बहल को क्लीन चिट दिए जाने से अब हमारे पास उन्हें सुपर 30 के निर्देशक के रूप में श्रेय देने के सिवाय कोई विकल्प नहीं है.’’ यह घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जब कश्यप ‘सुपर 30’ के निर्माण बाद का काम देखने को सहमत हो गए थे. फिल्म में ऋतिक रोशन मुख्य भूमिका में हैं. बहल के वकील हितेश जैन ने कहा कि क्लीन चिट ने सबकुछ साफ कर दिया है.

 

जैन ने पीटीआई से कहा, ‘‘कहानी खत्म हो गई है. मैं खुश हूं कि उन्हें (बहल) आरोपमुक्त कर दिया गया है.’’ बहल ने कश्यप और मोटवानी के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया था और कहा था कि उन्होंने उनके खिलाफ निराधार तथा मानहानिकारक आरोप लगाए जिससे उन्हें अपूरणीय क्षति हुई है.