अब आमिर खान पर भड़कीं कंगना रनौत, पूछा- Intolerance गैंग ने कितने कष्ट सहे?

कंगना रनौत ने आमिर खान को टैग करते हुए कहा, 'जैसा रानी लक्ष्मीबाई का किला तोड़ा था मेरा घर तोड़ दिया, जैसे सावरकर जी को विद्रोह के लिए जेल में डाला गया था, मुझे भी जेल भेजने की पूरी कोशिश की जा रही है. इन्टॉलरेंस गैंग से जाकर कोई पूछे कितने कष्ट सहे हैं उन्होंने इस इन्टॉलरेंट देश में?'

अब आमिर खान पर भड़कीं कंगना रनौत, पूछा- Intolerance गैंग ने कितने कष्ट सहे?
(फाइल फोटो)

मुंबईः घृणा फैलाने के लिए शिकायत किए जाने के एक दिन बाद, अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने शुक्रवार (23 अक्टूबर) को कहा कि वह जेल जाने के लिए तैयार हैं. उन्होंने साथ ही इस बार असहिष्णुता का मुद्दा उठा दिया और आमिर खान (Aamir Khan) पर निशाना साधा. इससे पहले, मुंबई पुलिस ने देशद्रोह के आरोप में कंगना और उनकी बहन रंगोली चंदेल के खिलाफ दर्ज एफआईआर के मामले में समन जारी किया था.

रानी लक्ष्मीबाई और सावरकर की पूजा करती हैं कंगना
उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'मैं सावरकर, नेता बोस और झांसी की रानी की पूजा करती हूं. आज सरकार, मुझे जेल में डालना चाहती है, जो मुझे मेरे च्वॉइस को लेकर कांफिडेंट बनाता है. जेल में जाने और मेरे आदर्श की तरह कठिनाईयां सहने की प्रतिक्षा. यह मेरे जीवन को एक अर्थ देगा. जय हिंद'

आमिर खान को टैग करते हुए बोलीं कंगना...
उन्होंने एक अलग ट्वीट में इस मामले में आमिर खान की चुप्पी को लेकर उन्हें टैग करते हुए किया. उन्होंने आमिर खान को टैग करते हुए कहा, 'जैसा रानी लक्ष्मीबाई का किला तोड़ा था मेरा घर तोड़ दिया, जैसे सावरकर जी को विद्रोह के लिए जेल में डाला गया था, मुझे भी जेल भेजने की पूरी कोशिश की जा रही है. इन्टॉलरेंस गैंग से जाकर कोई पूछे कितने कष्ट सहे हैं उन्होंने इस इन्टॉलरेंट देश में?'

याद दिला दें कि आमिर खान ने 2015 में देश में असहिष्णुता का मुद्दा उठाया था और कहा था कि उनकी पत्नी किरण राव ने उन्हें भारत छोड़ने की सलाह दी है, क्योंकि किरण को बच्चों की सुरक्षा की चिंता है. बता दें कि नई शिकायत में मुनव्वरली साहिल ए. सैय्यद ने कंगना और उनकी बहन पर सांप्रदायिक नफरत फैलाने का आरोप लगाया है.

 

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.