Hum Do Hamare Do Review: OTT पर रिलीज हुई कृति-राजकुमार की फिल्म, देखने से पहले पढ़ लीजिए ये रिव्यू
X

Hum Do Hamare Do Review: OTT पर रिलीज हुई कृति-राजकुमार की फिल्म, देखने से पहले पढ़ लीजिए ये रिव्यू

मूवी की स्टार कास्ट शानदार है और केवल इस कास्ट के चलते ही बहुत लोग इस फिल्म को देखेंगे. अभिषेक जैन के निर्देशन में बनी इस फिल्म में राजकुमार राव (Rajkummar Rao) और कृति सैनन (Kriti Sanon) लीड रोल में हैं.

Hum Do Hamare Do Review: OTT पर रिलीज हुई कृति-राजकुमार की फिल्म, देखने से पहले पढ़ लीजिए ये रिव्यू

कास्ट: कृति सैनन, राजकुमार राव, परेश रावल, रत्ना पाठक
निर्देशक: अभिषेक जैन
निर्माता: दिनेश विजान

अगर किसी को गोल्डन चांस मिला हो और वो उसे पूरी तरह बर्बाद कर दे, तो नतीजे क्या होंगे? इसे समझने के लिए आपको 'हम दो हमारे दो' देखनी पड़ेगी. मूवी की स्टार कास्ट शानदार है और केवल इस कास्ट के चलते ही बहुत लोग इस फिल्म को देखेंगे. अभिषेक जैन के निर्देशन में बनी इस फिल्म में राजकुमार राव (Rajkummar Rao) और कृति सैनन (Kriti Sanon) लीड रोल में हैं. इसके अलावा फिल्म में परेश रावल (Paresh Rawal), रत्ना पाठक शाह (Ratna Pathak Shah), मनु ऋषि (Manu Rishi), अपार शक्ति खुराना, प्राची शाह और सानंद वर्मा जैसे मंझे हुए कलाकार हैं.

कहां रिलीज हुई है फिल्म?
'हम दो हमारे दो' (Hum Do Hamare Do) 29 अक्टूबर को डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हुई है. प्रोड्यूसर हैं 'लव आज कल' (Love Aaj Tak), 'स्त्री' (Stree), 'बाला' (Baala), 'एजेंट विनोद' (Agent Vinod) और 'गो गोवा गॉन' (Go Goa Gone) जैसी फिल्में प्रोड्यूस करने वाले दिनेश विजान. फिल्म की कहानी क्या है? क्या आपको इस फिल्म को देखना चाहिए? अगर हां, तो किस तरह के दर्शक वर्ग को ध्यान में रखकर ये फिल्म बनाई गई है? चलिए जानते हैं इन्हीं सवालों के जवाब.

फैमिली कॉमेडी है फिल्म
'हम दो हमारे दो' (Hum Do Hamare Do) यूं तो एक क्लीन रोमांटिक कॉमेडी फैमिली मूवी है. इसका मूल आइडिया भी अच्छा ही है. 'गोलमाल अगेन' (Golmaal Again) के मिथुन चक्रवर्ती-रत्ना पाठक शाह की तरह इसमें भी एक बुजुर्गों की लवस्टोरी जोड़ी गई है, और मूल आइडिया है कि क्या जो अनाथ हैं, वो अपने मां-बाप खुद चुन सकता है? लेकिन उसको जोड़ दिया गया सिचुएशनल कॉमेडी से, जो कायदे से अंजाम नहीं पहुंच पाई.

क्या है फिल्म की कहानी?
दर्शकों को ये लॉजिक हजम नहीं हुआ कि शादी के लिए तैयार लड़की को पाने के लिए कोई इतना पेचीदा रास्ता क्यों अपना रहा है. कहानी है ध्रुव (Rajkummar Rao) नाम के एक अनाथ लड़के की, जो पुरुषोत्तम (Paresh Rawal) के ढाबे पर काम करता है. पुरुषोत्तम ध्रुव को अपने बेटे की तरह मानता है लेकिन ध्रुव वहां से एक रात भाग जाता है. यही ध्रुव आगे चलकर बड़ा बिजनेसमैन बन जाता है.

उसकी मुलाकात एक ब्लॉगर अन्या (Kriti Sanon) से होती है और दोनों को एक दूसरे से प्यार हो जाता है. ध्रुव बातों-बातों में अन्या से एक झूठ बोल देता है कि उसके परिवार में बस माता-पिता हैं. उनका रोल प्ले करने के लिए फिर वह परेश रावल (Paresh Rawal) और उनकी प्रेमिका दीप्ति कश्यप (Ratna Pathak Shah) को तैयार करता है, लेकिन इस झूठ के चक्कर में गड़बड़ होती चली जाती हैं.

इन जगहों पर रह गई कमी
ऐसे में जहां जरूरत थी प्रियदर्शन जैसी सिचुएशनल और स्पीडी कॉमेडी की, वहां रोहित शेट्टी (Rohit Shetty) और डेविड धवन (David Dhawan) जैसी भी नहीं हो पाई. इसकी बड़ी वजह थी मारक डायलॉग्स का नहीं होना, सिचुएशनल कॉमेडी के काफी मौके थे, लेकिन डायरेक्टर भुना नहीं पाए, रहा सहा काम म्यूजिक ने कर दिया, एक भी गाना ऐसा नहीं, जिसके बोल मूवी देखने के बाद आपको याद रहे हों. कई बार मूवी लाइन पर आती नजर आती है लेकिन फिर अचानक पटरी से उतर जाती है.

डायरेक्टर रहे कमजोर कड़ी
राजकुमार राव (Rajkummar Rao) भी अपनी पुरानी फिल्मों की एक्टिंग को दोहराते नजर आए, लेकिन एक्टर्स पर सवाल उठाना ठीक नहीं है क्योंकि सब खुद को कई बार साबित कर चुके हैं. तो अभिषेक जैन (Abhishek Jain) जैसे नए डायरेक्टर्स के लिए ये फिल्म एक सबक है कि जो मूवी एक बेहतरीन मूवी हो सकती थी, वो एक साधारण फिल्म बनकर रह गई. अच्छी बात यही थी कि फिल्म बस 2 घंटे 8 मिनट की ही थी.

रेटिंग: 1.5

इसे भी पढ़ें: Anupama Spoiler Alert: तूफान लाएगा अनुपमा और अनुज को करीब, फिल्मी अंदाज में कटेगी साथ में रात

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें

Trending news