Zee Rozgar Samachar

सुशांत सिंह राजपूत को श्रद्धांजलि देने के लिए हुआ वर्चुअल म्यूजिक कॉन्सर्ट, SEE VIDEO

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आखिरी फिल्‍म 'दिल बेचारा (Dil Bechara)' शुक्रवार को रिलीज होने वाली है. लेकिन इसके पहले उनकी टीम ने उन्हें एक म्यूजिकल ट्रब्यूट दिया है.

सुशांत सिंह राजपूत को श्रद्धांजलि देने के लिए हुआ वर्चुअल म्यूजिक कॉन्सर्ट, SEE VIDEO

नई दिल्ली: दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आखिरी फिल्‍म 'दिल बेचारा (Dil Bechara)' शुक्रवार को रिलीज होने वाली है. जहां सुशांत के सभी फैंस को फिल्म की रिलीज का बेसब्री से इंतजार है वहीं उनके साथ काम करने वाली फिल्म की टीम भी इस समय में काफी भावुक है. सभी इस समय में सुशांत को काफी मिस कर रहे हैं. अब फिल्म के रिलीज होने से पहले फिल्म की म्यूजिक टीम ने उन्हें एक म्यूजिकल ट्रब्यूट दिया है. 

दरअसल, 'दिल बेचारा' की म्‍यूजिक टीम ने एक्‍टर की याद में एक स्‍पेशल वीडियो रिलीज किया है जो कि म्‍यूजिकल ट्रिब्‍यूट है. जिसमें म्‍यूजिक कंपोजर ए आर रहमान फिल्‍म के बाकी सिंगर्स और गीतकार अमिताभ भट्टाचार्या के साथ अपने तरीके से श्रद्धांजलि दी है. इसकी शुरुआत में रहमान कहते हैं कि कैसे यह एल्‍बम स्‍पेशल है और कैसे अब इन 9 गानों का मतलब ही दूसरा है. देखिए यह वीडियो...

सिंगर मोहित चौहान ने सुशांत को याद करते कहा, 'सुशांत सिंह राजपूत की अंतरिक्ष में, तारों में, चांद में रूचि थी. 'तारे गिन' सॉन्ग उनको ध्यान में रखकर उन्हें डेडिकेट किया गया है.' इस वीडियो में वह सिंगर श्रेया घोषाल के साथ वह इस सॉन्ग को गाते हुए नजर आए. इस गाने के बाद फिल्म दूसरा सॉग्न 'खुलके जीने का...' को सिंगर अरिजीत सिंह और शाशा तिरुपति ने गाया. गाने से पहले शाशा ने कहा कि ये गाना छोटी-छोटी खुशियों के बारे में है.

अमिताभ भट्टाचार्य ने पढ़ी 'दिल बेचारा' कविता
सारे गानों के बाद अंत में अमिताभ भट्टाचार्य सामने आते हैं, और 'दिल बेचारा' कविता पढ़ते हैं. वीडियो के सबसे आखिरी हिस्से में सुशांत सिंह राजपूत की आवाज आती है, जिसमें वह इस फिल्म का एक ऐसा डायलॉग बोलते हैं. जो हर किसी को इमोशनल कर जाएगा. 

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें 

ये भी देखें-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.