close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एंकरिंग की दुनिया में कुछ यूं नाम कमा रहा है यह इंजीनियर

बतौर इंजीनियर काम करते हुए अपने एंकरिंग करियर को आगे ले जाना आसान नहीं.

एंकरिंग की दुनिया में कुछ यूं नाम कमा रहा है यह इंजीनियर

नई दिल्ली: हमारे देश में आज भी बच्चों को दो करियर ऑप्शन दिए जाते हैं- या तो इंजीनियर बनो या डॉक्टर. नितिश कालिया (Nitish Kalia) ने सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की और इसी दौरान उन्हें जीवन में कुछ अलग करने की इच्छा जागी. इसके बारे में बात करते हुए नितिश कहते हैं, "मुझे बचपन से ही स्पोर्ट्स में दिलचस्पी थी. मैंने स्टेट लेवल पर अपने स्कूल को क्रिकेट में रिप्रेजेंट भी किया है. क्रिकेट खेलते हुए क्रिकेट कमेंटरी का शौक जागा. मैं कॉलेज में शौकिया तौर पर क्रिकेट कमेंटरी करने लगा. उसी दौरान कॉलेज इवेंट्स और फेस्टिवल्स में एंकरिंग करने का मौका मिला. मुझे अहसास हुआ की मुझे स्टेज से प्यार होने लगा था और एंकरिंग और कमेंटरी में बहुत खुशी मिलने लगी. मैंने पढ़ाई खत्म कर जॉब शुरू की, लेकिन साथ ही साथ एंकरिंग भी जारी रखी. अभी लगभग 9 साल हो गए हैं इस फील्ड में मुझे."

हासिल की उपलब्धियां
इस 9 साल के सफर में नितिश ने बहुत सारी उपलब्धियां हासिल की हैं. मारुती जैसे बड़े ब्रांड के लिए कॉर्पोरेट इवेंट होस्ट करने से लेकर ऑल इंडिया रेडियो मुंबई पर कमेंटरी करने तक, नितिश ने इस क्षेत्र में बहुत सारी चीजों में हाथ आजमा लिया है, लेकिन बतौर इंजीनियर काम करते हुए अपने एंकरिंग करियर को आगे ले जाना आसान नहीं.

अच्छे मौके के इंजतार में हैं नीतीश
"मैंने हमेशा एंकरिंग को हॉबी की तरह समझा लेकिन पिछले कुछ समय से इतना ज़्यादा काम आने लगा की मुझे पता चला की अब इंजीनियरिंग और एंकरिंग अथवा कमेंटरी को साथ-साथ करना मुश्किल हो जाएगा. मैं अभी बहुत सारे बड़े इवेंट्स एंकर कर रहा हूं और रेडियो जगत के साथ भी एक कमेंटेटर के तौर पे जुड़ा हुआ हूं. अगर आने वाले वक्त में मुझे अच्छे मौके मिलते हैं, तो मैं फुल टाइम एक टेलीविजन एंकर या स्पोर्ट्स कमेंटेटर के रूप में काम करना चाहूंगा."