Zee Rozgar Samachar

KBC के इस सवाल पर मचा बवाल, शो को बायकॉट करने की उठी मांग

केबीसी में पूछे गए एक सवाल को लेकर विवाद खड़ा हो गया है. सोशल मीडिया पर शो को बायकॉट करने की मांग की जा रही है. अमिताभ बच्चन और निर्माताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है. शो को सोशल मीडिया पर बायकॉट करने की मांग उठी है. 

KBC के इस सवाल पर मचा बवाल, शो को बायकॉट करने की उठी मांग
अमिताभ बच्चन. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: सुपरस्टार अमिताभ बच्चन और उनके लोकप्रिय शो 'कौन बनेगा करोड़पति' के निर्माताओं के खिलाफ हिंदू भावनाओं को आहत करने के आरोप में एक एफआईआर दर्ज की गई थी. बच्चन ने करमवीर ऐपिसोड में मनुस्मृति से संबंधित प्रश्न पूछा था. इस ऐपिसोड में सामाजिक कार्यकर्ता बेजवाड़ा विल्सन और अभिनेता अनूप सोनी मेहमान के तौर पर शामिल हुए थे. अब शो को सोशल मीडिया पर बायकॉट करने की मांग हो रही है.

सोशल मीडिया पर शो को बायकॉट करने की मांग
सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं को यह ठीक नहीं लगा और शो का बायकॉट करने की मांग उठने लगी. हिंदू कार्यकर्ताओं ने निमार्ताओं पर 'वामपंथी प्रचार' करने का आरोप लगाया है. वहीं अन्य लोगों ने इसे 'हिंदू भावनाओं को ठेस पहुंचाने' के लिए दोषी ठहराया. शो की टीआरपी इस साल पहले ही कम थी. ऐसे में अब ये विवाद खड़ा हो गया है. 

शो में पूछा गया सवाल
शो में 6.4 लाख रुपये के लिए पूछा गया प्रश्न था, '25 दिसंबर 1927 को डॉ. बी आर अंबेडकर और उनके अनुयायियों ने किस धर्मग्रंथ की प्रतियां जलाईं थीं?'

इसके विकल्प -
(ए) विष्णु पुराण
(बी) भगवद गीता
(सी) ऋगदेव
(डी) मनुस्मृति 
इस सवाल का जवाब मनुस्मृति था.

जवाब के बारे में विस्तार से बताते हुए अमिताभ बच्चन ने कहा, '1927 में अंबेडकर ने प्राचीन हिंदू ग्रंथ मनुस्मृति की निंदा की और इसके एक पॉइंट को जाति व्यवस्था के खिलाफ बताते हुए इसकी प्रतियां भी जलाईं.'

सोमवार से शुक्रवार प्रसारित होता है KBC 
बता दें, 'कौन बनेगा करोड़पति' का 12वां सीजन सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे प्रसारित होता है. हर शुक्रवार कर्मवीर स्पोशल एपिसोड प्रसारित किया जाता है. इस एपिसोड में आने वाले लोगों की जिंदगी सभी के लिए मिसाल होती है.

ये भी पढ़ें: टीवी शो KBC और Amitabh Bachchan के खिलाफ FIR दर्ज, विवादित सवाल को लेकर मचा हंगामा

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.