जन्माष्टमी पर लड्डू गोपाल को लगाएं माखन मिश्री का भोग, ये है बनाने का आसान तरीका

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर भोग के लिए विशेष तौर से माखन मिश्री का भोग लगाया जाता है. सभी को मालूम है कि मक्खन श्रीकृष्ण का प्रिय भोग है. माखन मिश्री के बिना श्रीकृष्ण का भोग अधूरा माना जाता है. 

जन्माष्टमी पर लड्डू गोपाल को लगाएं माखन मिश्री का भोग, ये है बनाने का आसान तरीका
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: श्रीकृष्ण जन्माष्टमी (Janmashtami 2020) पर हर सनातनधर्मी धूमधाम से जन्मोत्सव मनाता है. धार्मिक ग्रंथों की मानें तो भगवान श्रीकृष्ण को मिठाई बहुत प्रिय थी. यही कारण है कि इस दिन घर में लड्डू गोपाल को खुश करने के लिए तरह-तरह के पकवान बनाएं जाते हैं. श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर भोग के लिए विशेष तौर से माखन मिश्री का भोग लगाया जाता है. सभी को मालूम है कि मक्खन श्रीकृष्ण का प्रिय भोग है. माखन मिश्री के बिना श्रीकृष्ण का भोग अधूरा माना जाता है. सिर्फ जन्माष्टमी ही नहीं बाकी दिनों में भी उन्हें माखन मिश्री का भोग लगाकर हमें भी खाना चाहिए, इसके तमाम फायदे होते हैं.

सामग्री
- 1 किलो दही
- 250 ग्राम मिश्री
- 1 बड़ा चम्मच बारीक कटा पिस्ता और बादाम
- 2-3 कप पानी

बनाने का तरीका
सबसे पहले एक बर्तन में दही डाल दें, दही को ब्लेंडर की सहायता से फेटते जाएं और इससे निकलने वाले मक्खन को एक कटोरी में रख लें. दही से मक्खन निकालते वक्त इसमें थोड़ा-थोड़ा पानी डालते जाएं ताकि मक्खन आसानी से निकल आएगा. अब निकाले गए मक्खन में मिश्री, पिस्ता और बादाम डालकर मिला लें. लीजिए अब माखन मिश्री प्रसाद भोग तैयार है.

ये भी पढ़ें- जन्माष्टमी 2020: फलाहार व्रत में बनाएं धनिया पंजीरी, ये है सही विधि

माखन मिश्री खाने के फायदे
माखन मिश्री खाने में जितना मधुर लगता है, उतना ही इसका सेहत के लिए भी फायदा होता है. मक्खन में काफी मात्रा में पौष्टिक गुण मौजूद होते हैं. इसके अलावा मिश्री के सेवन से शरीर को उर्जा मिलती है.

हीमेग्लोबिन का स्तर ठीक करे
माना जाता है मक्खन मिश्री को एक साथ मिलाकर खाने से शरीर को ताकत और पौष्टिकता मिलती है. साथ ही शरीर में हीमोंग्लोबिन की मात्रा बढ़ती है.

सिर दर्द से छुटकारा
माखन मिश्री को मिलाकर प्रतिदिन अगर नाश्ते में खाया जाए, तो सिरदर्द और जोड़ों के दर्द की समस्या से छुटकारा मिल जाता है. इससे जोड़ों मे नमी और चिकनाई मिल सकेगी और शरीर का रूखापन भी धीरे-धीरे कम होगा.

मुंह में छालों से दिलाए राहत
मुंह में छाले हो जाने पर माखन मिश्री का सेवन लाभदायक साबित होता है. इसे खाने से आपको छालों से जल्द ही आराम मिलेगा.

याददाश्त के लिए बेहतर  
माखन मिश्री का सेवन करना मस्तिष्क के लिए भी बेहद फायदेमंद होता हैं. बच्चों को नियमित रूप से से अगर माखन मिश्री खिलाया जाए, तो यह उनके मस्तिष्क और शरीर के विकास के लिए बेहद फायदेमंद होता है.