फुटबॉल खेलने से ठीक हो सकता है महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर

आमतौर पर फुटबॉल को लड़कों का खेल माना जाता है लेकिन एक नए शोध से पता चला है कि सप्ताह में दो या तीन बार फुटबॉल खेलने से महिलाओं को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात मिल सकती है।

फुटबॉल खेलने से ठीक हो सकता है महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर

लंदन: आमतौर पर फुटबॉल को लड़कों का खेल माना जाता है लेकिन एक नए शोध से पता चला है कि सप्ताह में दो या तीन बार फुटबॉल खेलने से महिलाओं को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात मिल सकती है।

यूनीवर्सिटी ऑफ सदर्न डेनमार्क के प्रोफेसर पीटर क्रुस्ट्रप ने बताया कि ‘डैनिश कॉन्सेप्ट फुटबॉल फिटनेस महिलाओं में हाई ब्लड प्रेशर के अलावा शरीर में वसा के प्रतिशत, हड्डी के घनत्व और शरीर की चुस्ती फुर्ती पर अच्छा असर डालता है। में फुटबॉल के तकनीकी पक्ष में जाने की बजाए इसे खेलने से शरीरिक स्वास्थ्य पर पड़ने वाले सकारात्मक असर पर ध्यान दिया जाता है। 

क्रुस्ट्रप ने कहा, ‘हमारे अध्ययन में यह बात सामने आई कि जिन महिलाओं को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है, उन्हें भले ही यह खेल नहीं आता हो, अगर वह फुटबॉल खेलतीं हैं तो इससे उनके शरीर पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इससे ब्लड प्रेशर के अलावा हृदय संबंधी बीमारियां और टाइप टू मधुमेह को दूर रखने में भी सहायता मिलती है।

अपने अध्ययन के लिए उन्होंने 35 से 50 वर्ष की अप्रशिक्षित महिलाओं को चुना। उनमें से 19 महिलाओं को एक वर्ष तक एक सप्ताह में दो या तीन बार यह खेल खिलाया गया। यह शोध जरनल ऑफ मेडिसिन एंड साइंस इन स्पोर्ट्स में प्रकाशित हुई है।