बालों के सफेद और झड़ने से हैं परेशान तो अपनाएं ये आयुर्वेदिक उपचार, हेयर हो जाएंगे मजबूत और शाइनिंग
X

बालों के सफेद और झड़ने से हैं परेशान तो अपनाएं ये आयुर्वेदिक उपचार, हेयर हो जाएंगे मजबूत और शाइनिंग

आयुर्वेद में बालों का झड़ना कम करने के लिए बहुत से बेहतरीन उपाय है.

बालों के सफेद और झड़ने से हैं परेशान तो अपनाएं ये आयुर्वेदिक उपचार, हेयर हो जाएंगे मजबूत और शाइनिंग

नई दिल्ली:  अगर आप भी बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं तो ये खबर आपके काम की है. इस खबर में हम आपके लिए  कुछ ऐसे आयुर्वेद उपाय लेकर आए हैं, जिनकी मदद से आप झड़ते हुए बालों की समस्या से निजात पा सकते हैं. दरअसल, बालों का झड़ना एक आम समस्या है. बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं. लंबी बीमारी या फिर गंभीर संक्रमण या इंफेक्शन की वजह से भी बाल झड़ने लगते हैं. इसके अलावा शारीरिक तनाव भी इसकी एक वजह होता है. विशेषकर स्त्रियों में शिशु को जन्म देने के बाद यह होता है. 

जाने माने आयुर्वेद डॉक्टर अबरार मुल्तानी के अनुसार, आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां हैं, जो बालों को स्वस्थ बनाने में मदद करती हैं. बालों के झड़ने को कम करने के लिए आप सस्ते आयुर्वेदिक उपचारों का इस्तेमाल कर सकते हैं. इन्हें आप अपने घर पर आसान तरीकों से इस्तेमाल कर सकते हैं.

बालों के लिए आयुर्वेद उपचार

1. एलोवेरा का ऐसे करें उपयोग
डॉक्टर अबरार मुल्तानी के अनुसार, एलोवेरा का इस्तेमाल त्वचा और बालों की कई समस्याओं से लड़ने के लिए किया जा सकता है. ये आपकी त्वचा की सभी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है. इसे आप अपने बालों में भी लगा सकते हैं. 

ऐलोवेरा के फायदे

  • ये आपके स्कैल्प को स्वस्थ बनाने में मदद कर सकता है. 
  • इससे आपके बाल घने और मुलायम बने रह सकते हैं. 
  • बालों के लिए आप फ्रेश एलोवेरा जेल निकाल सकते हैं. 
  • इससे आप अपने स्कैल्प पर मालिश कर सकते हैं. 
  • इसे अपने बालों में जड़ से सिरे तक अच्छी तरह से लगाएं. 
  • ये आपके बालों को मुलायम और चमकदार बनाने में मदद करता है.

2. भृंगराज का उपयोग लाभकारी
डॉक्टर अबरार मुल्तानी कहते हैं कि भृंगराज एक बहुत ही उपयोगी औषधीय पौधा है. ये कई बीमारियों को इलाज करने में मदद करता है. बालों के लिए ये एक बेहतर औषधि है. इसका इस्तेमाल बालों के झड़ने को कम करने के लिए किया जा सकता है. इसके लिए आप भृंगराज को बालों पर लगाएं

भृंगराज के फायदे

  • ये बालों को बढ़ाने, मजबूत करने और रूसी को रोकने में मदद कर सकता है. 
  • ये बालों को सफेद होने से रोकता है. 
  • इसका इस्तेमाल करने से बालों का प्राकृतिक रंग बना रहता है. 
  • बालों को बेहतर बनाने के लिए आप भृंगराज तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. 
  • इसमें विटामिन ई भी होता है जो बालों के लिए सबसे अच्छे विटामिनों में से एक है.

3. आंवला, रीठा और शिकाकाई
डॉक्टर अबरार मुल्तानी ने बताया कि आंवला, रीठा और शिकाकाई तीन सामग्रियां हैं. ये तीनों को एक साथ मिलाकर बालों के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं. 

आंवला, रीठा और शिकाकाई के फायदे

  • ये बालों के झड़ने की समस्या को कम करने में मदद कर सकती हैं. 
  • आंवला विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. 
  • आंवाला बालों के झड़ने को नियंत्रित करने और स्वस्थ बालों की कोशिकाओं को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है. रीठा में आयरन होता है जो बालों की कोशिकाओं के विकास को बढ़ावा दे सकता है. 
  • शिकाकाई इन दोनों सामग्रियों के गुणों को अवशोषित करने में मदद करती है.

WATCH LIVE TV

Trending news