ICMR की चेतावनी- कोरोना में इन दवाओं का सेवन हो सकता है खतरनाक, बरतें ये खास सावधानी

इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (ICMR) की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, किडनी और हार्ड डिजीज के मरीजों में कोरोना के इलाज में पेन किलर का इस्तेमाल खतनाक हो सकता है.

ICMR की चेतावनी- कोरोना में इन दवाओं का सेवन हो सकता है खतरनाक, बरतें ये खास सावधानी
फाइल फोटो.

नई दिल्लीः कोरोना संक्रमण के इस समय में लोग बचाव के लिए दवाओं का सेवन कर रहे हैं. लेकिन अब आईसीएमआर (इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च) ने चेतावनी दी है कि कोरोना संक्रमण में बिना डॉक्टर के परामर्श के पेन किलर (दर्द निवारक) दवाएं लेना खतरनाक साबित हो सकता है. आईसीएमआर ने कहा है कि इबुप्रोफेन जैसी दवाईयां कोरोना की गंभीरता को बढ़ा रही हैं. नॉन स्टेरोडिकल एंटी इंफ्लामेंटरी दवाएं लेना कोरोना संक्रमण में बेहद खतरनाक साबित हो सकता है. हालांकि डॉक्टर की सलाह पर ये दवाएं ली जा सकती हैं. 

किडनी और हार्ट के मरीजों को देना होगा खास ध्यान
इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, किडनी और हार्ड डिजीज के मरीजों में कोरोना के इलाज में पेन किलर का इस्तेमाल खतनाक हो सकता है. ऐसे में बिना डॉक्टर की सलाह के पेन किलर्स दवाओं को लेने से बचाना चाहिए. 

वैक्सीन लेने के तुरंत बाद भी ना लें पेन किलर्स
डॉक्टर्स की सलाह है कि कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद भी पेन किलर दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए. इसकी वजह ये है कि पेन किलर्स दवाएं अक्सर शरीर की इम्यूनिटी को कम कर देती हैं. जबकि वैक्सीन हम शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए ही लेते हैं. ऐसे में कोरोना वैक्सीन लेने से पहले या फिर कुछ देर बाद तक पेन किलर दवाओं का सेवन नहीं करना चाहिए. 

इसके अलावा खाली पेट भी पेन किलर दवाएं खाना नुकसानदायक हो सकता है. दरअसल खाली पेट पेन किलर दवाएं शरीर में गैस और एसिडिटी बढ़ा सकती हैं. जिससे तबीयत बिगड़ सकती है. इसलिए पेन किलर अगर खाने की जरूरत पड़ती है तो पहले कुछ खा लें. 

  

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.