खुशी के साथ आंसू छलका रही है ये फोटो, जानिए क्यों लोग हो रहे हैं भावुक
X

खुशी के साथ आंसू छलका रही है ये फोटो, जानिए क्यों लोग हो रहे हैं भावुक

ये सारे इंजेक्शन वही हैं जिन्हे बच्ची की मां ने लगवाएं है उसके सुरक्षित पैदा होने के लिए. 

खुशी के साथ आंसू छलका रही है ये फोटो, जानिए क्यों लोग हो रहे हैं भावुक

एक मासूम सी बच्ची की फोटो इन दिनों काफी वायरल हो रही है. इस फोटो में शिशु को इंजेक्शनों के बीच रखा गया है. ये सारे इंजेक्शन वही हैं जिन्हे बच्ची की मां ने लगवाएं है उसके सुरक्षित पैदा होने के लिए. साथ ही तस्वीर एक मां बनने की हसरत रखने वाली करोड़ों महिलाओं को समर्पित किया गया है जो IVF  In Vitro fertilization के जरिए बच्चा चाहती हैं. इस तस्वीर को पूरी दुनिया में शेयर किया जा रहा है. आईवीएफ टेक्नीक का पूरा नाम इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन है, यह एक सहायक प्रजनन टेक्नीक है. इस टेक्नीक से बच्चा पैदा करने से असमर्थ महिलाओं को गैर कुदरती तरीके से गर्भवती करवाया जाता है. 

फेसबुक और ट्वीटर पर महिलाएं दे रही हैं प्रतिक्रियाएं
बच्ची की मां एंजेला का कहना है वो बांझपन से ग्रसित थीं. 42 साल की उम्र में  उन्होने IVF के जरिए बच्चा पैदा करने का फैसला किया. एंजेला ने बताया कि पूरी दुनिया ये नहीं समझ पाती हैं कि एक IVF के जरिए बच्चा चाहने वाली मां को कितने इंजेक्शन के दर्द से गुजरना पड़ता है. साथ ही इस दौरान मां को तमाम मानसिक तनाव का भी सामना करना पड़ता है. 5 अक्टूबर को फोटो के शेयर होने के बाद से ही पूरी दुनिया में महिलाओं ने प्रतिक्रिया देना शुरू किया. 

आसान नहीं होता IVF के जरिए बच्चा पैदा करना
42 वर्ष की एंजेला बताती हैं कि IVF के जरिए बच्चा पैदा करना कभी भी आसान नहीं होता. ज्यादातर डाक्टर भी कहते हैं कि IVF के जरिए बच्चा पैदा होने की संभावना औसतन 15-20 प्रतिशत ही होती है. चालीस साल से ज्यादा की महिलाओं के मां बनने की मात्र 5 प्रतिशत ही उम्मीद रहती है. इस दौरान गर्भ में पल रहे नवजात को सुरक्षित रखने के लिए तमाम तरह की दवाओं को इंजेक्शन के जरिए दिया जाता है. इन हालातों में मां बहुत ज्यादा दर्द से गुजरती है.

Trending news